बहुल कार्यपालिका की परिभाषा

Admin
0

बहुल कार्यपालिका की परिभाषा

बहुल कार्यपालिका (Plural Executive) - बहुल कार्यपालिका वह कार्यपालिका होती है जिसमें कार्यपालिका का प्रधान कोई व्यक्ति या सामूहिक उत्तरदायित्व प्रदर्शित करने वाली कोई एक संस्था नहीं होती, अपितु इसमें कार्यपालिका सम्बन्धी शक्तियों का प्रयोग दो या अधिक व्यक्तियों द्वारा किया जाता है तथा वह सभी पृथक्-पृथक् रूप से इसके लिये उत्तरदायी होते हैं। दुसरे शब्दों में बहुल कार्यपालिका का तात्पर्य कार्यपालिका के ऐसे प्रकार से है जिसके अन्तर्गत अन्तिम रूप में कार्यपालिका शक्ति किसी एक व्यक्ति में निहित न होकर व्यक्तियों के एक समुदाय में निहित होती है।

इस प्रकार बहुल कार्यपालिका में कार्यपालिका शक्तियों के प्रयोग का अधिकार कई केन्द्रों में निहित होता है और इसमें सबका उत्तरदायित्व, किसी का उत्तरदायित्व नहीं' की स्थिति दृष्टिगोचर होती है। अतः राजनीतिक व्यवस्थाओं में बहुल कार्यपालिका को दोषपूर्ण व दुर्बल माना जाता है इसी कारण अधिकांश लोकतान्त्रिक देशों में इसे नहीं अपनाया गया है। 

विश्व में स्विट्जरलैण्ड एकमात्र ऐसा लोकतान्त्रिक देश है जहाँ बहुल कार्यपालिका' को अपनाया गया है और आज तक वहाँ इसके कारण कोई गतिरोध उत्पन्न नहीं हुआ। स्विटजरलैण्ड में कार्यपालिका सत्ता 7 सदस्यों की एक संघीय सरकार में निवास करती है और यह संघीय सरकार सामूहिक रूप से राज्य की कार्यपालिका प्रधान के रूप में कार्य करती है। संघीय सरकार के सातों सदस्य की स्थिति व शक्तियाँ समान होती हैं। इसी आधार पर इसे बहुल कार्यपालिका कहा जाता है। स्विट्जरलैण्ड में बहुल कार्यपालिका लोकतन्त्रीय भावना को परिचायक है।

Post a Comment

0Comments
Post a Comment (0)

#buttons=(Accept !) #days=(20)

Our website uses cookies to enhance your experience. Learn More
Accept !