Thursday, 29 July 2021

अहन् शब्द रूप संस्कृत में – Ahan Shabd Roop In Sanskrit

अहन् शब्द रूप संस्कृत में – Ahan Shabd Roop In Sanskrit

अहन् शब्द रूप संस्कृत में – Ahan Shabd Roop In Sanskrit

यहां पढ़ें अहन् शब्द रूप की सभी विभक्ति और वचन संस्कृत भाषा में। अहन् शब्द का अर्थ होता है 'दिन'। अहन् शब्द रूप नकारांत नपुंसकलिंग होता है।

अहन् शब्द रूप संस्कृत में

विभक्तिएकवचनद्विवचनबहुवचन
प्रथमा अहःअह्नी / अहनीअहानि
द्वितीया अहःअह्नी / अहनीअहानि
तृतीया अह्नाअहोभ्याम्अहोभिः
चतुर्थी अह्नेअहोभ्याम्अहोभ्यः
पंचमी अह्नःअहोभ्याम्अहोभ्यः
षष्‍ठी अह्नःअह्नोःअह्नाम्
सप्‍तमी अह्नि / अहनिअह्नोःअहःसु / अहस्सु 
सम्बोधनहे अह / अहः!हे अह्नी / अहनी!हे अहानि!

Ahan Shabd Roop Striling in Sanskrit

पथिन् शब्द रूप संस्कृत में – Pathin Shabd Roop In Sanskrit

पथिन् शब्द रूप संस्कृत में – Pathin Shabd Roop In Sanskrit

पथिन् शब्द रूप संस्कृत में – Pathin Shabd Roop In Sanskrit

यहां पढ़ें पथिन् शब्द रूप की सभी विभक्ति और वचन संस्कृत भाषा में। पथिन् शब्द का अर्थ होता है 'रास्ता'। पथिन् शब्द रूप अकारांत पुल्लिंग होता है।

पथिन् शब्द रूप संस्कृत में

विभक्तिएकवचनद्विवचनबहुवचन
प्रथमा पन्थाःपन्थानौपन्थानः
द्वितीया पन्थानम्पन्थानौपथः
तृतीया पथापथिभ्याम्पथिभिः
चतुर्थी पथेपथिभ्याम्पथिभ्यः
पंचमी पथःपथिभ्याम् पथिभ्यः
षष्‍ठी पथःपथोःपथाम्
सप्‍तमी पथिपथोःपथिषु
सम्बोधनहे पन्थाः !हे पन्थानौ !हे पन्थानः !

Pathin Shabd Roop in Sanskrit

सर्व शब्द रूप नपुंसकलिंग संस्कृत में – Sarv Shabd Roop Napunsakling In Sanskrit

सर्व शब्द रूप नपुंसकलिंग संस्कृत में – Sarv Shabd Roop Napunsakling In Sanskrit

सर्व शब्द रूप नपुंसकलिंग संस्कृत में – Sarv Shabd Roop Napunsakling In Sanskrit

यहां पढ़ें सर्व शब्द रूप नपुंसकलिंग की सभी विभक्ति और वचन संस्कृत भाषा में। सर्व शब्द का अर्थ होता है 'सब'। सर्व शब्द रूप अकारांत नपुंसकलिंग की विभक्ति और वचन इस प्रकार है।

सर्व शब्द रूप नपुंसकलिंग संस्कृत में

विभक्तिएकवचनद्विवचनबहुवचन
प्रथमा सर्वम्सर्वेसर्वाणि
द्वितीया सर्वम्सर्वेसर्वाणि
तृतीया सर्वेणसर्वाभ्याम्सर्वैः
चतुर्थी सर्वस्मैसर्वाभ्याम्सर्वेभ्यः
पंचमी सर्वस्मात् सर्वाभ्याम्सर्वेभ्यः
षष्‍ठी सर्वस्यसर्वयोःसर्वेषाम्
सप्‍तमी सर्वस्मिन्सर्वयोःसर्वेषु

Sarv Shabd Roop Napunsakling in Sanskrit

सर्व शब्द रूप स्त्रीलिंग संस्कृत में – Sarv Shabd Roop Striling In Sanskrit

सर्व शब्द रूप स्त्रीलिंग संस्कृत में – Sarv Shabd Roop Striling In Sanskrit

सर्व शब्द रूप स्त्रीलिंग संस्कृत में – Sarv Shabd Roop Striling In Sanskrit

यहां पढ़ें सर्व शब्द रूप स्त्रीलिंग की सभी विभक्ति और वचन संस्कृत भाषा में। सर्व शब्द का अर्थ होता है 'सब'। सर्व शब्द रूप अकारांत स्त्रीलिंग की विभक्ति और वचन इस प्रकार है।

सर्व शब्द रूप स्त्रीलिंग संस्कृत में

विभक्तिएकवचनद्विवचनबहुवचन
प्रथमा सर्वासर्वेसर्वाः
द्वितीया सर्वाम्सर्वेसर्वाः
तृतीया सर्वयासर्वाभ्याम्सर्वाभिः
चतुर्थी सर्वस्यैसर्वाभ्याम्सर्वाभ्यः
पंचमी सर्वस्याःसर्वाभ्याम्सर्वाभ्यः
षष्‍ठी सर्वस्याःसर्वयोःसर्वासाम्
सप्‍तमी सर्वस्याम्सर्वयोःसर्वासु

Sarv Shabd Roop Striling in Sanskrit

सर्व शब्द रूप पुल्लिंग संस्कृत में – Sarv Shabd Roop Pulling In Sanskrit

सर्व शब्द रूप पुल्लिंग संस्कृत में – Sarv Shabd Roop Pulling In Sanskrit

सर्व शब्द रूप पुल्लिंग संस्कृत में – Sarv Shabd Roop Pulling In Sanskrit

यहां पढ़ें सर्व शब्द रूप की सभी विभक्ति और वचन संस्कृत भाषा में। सर्व शब्द का अर्थ होता है 'सब'। सर्व शब्द रूप अकारांत पुल्लिंग की विभक्ति और वचन इस प्रकार है।

सर्व शब्द रूप पुल्लिंग संस्कृत में

विभक्तिएकवचनद्विवचनबहुवचन
प्रथमा सर्वःसर्वौसर्वा
द्वितीया सर्वम्सर्वौसर्वान्
तृतीया सर्वेणसर्वाभ्याम्सर्वेः
चतुर्थी सर्वस्मैसर्वाभ्याम्सर्वेभ्यः
पंचमी सर्वस्मात् सर्वाभ्याम्सर्वेभ्यः
षष्‍ठी सर्वस्यसर्वयो:सर्वेषाम्
सप्‍तमी सर्वस्मिनसर्वयो:सर्वेषु

Sarv Shabd Roop Pulling In Sanskrit

Wednesday, 28 July 2021

पयस् का शब्द रूप संस्कृत में – Payas Shabd Roop In Sanskrit

पयस् का शब्द रूप संस्कृत में – Payas Shabd Roop In Sanskrit

पयस् का शब्द रूप संस्कृत में – Payas Shabd Roop In Sanskrit

यहां पढ़ें पयस् शब्द रूप की सभी विभक्ति और वचन संस्कृत भाषा में। पयस् शब्द का अर्थ होता है 'दूध और जल'। पयस् शब्द रूप सकारांत नपुंसकलिंग होता है।

पयस् का शब्द रूप संस्कृत – Payas Shabd Roop In Sanskrit

विभक्तिएकवचनद्विवचनबहुवचन
प्रथमा पयःपयसीपयांसि
द्वितीया पयःपयसीपयांसि 
तृतीया पयसापयोभ्याम्पयोभिः
चतुर्थी पयसेपयोभ्याम्पयोभ्यः
पंचमी पयसःपयोभ्याम्पयोभ्यः
षष्‍ठी पयसःपयसोःपयसाम्
सप्‍तमी पयसिपयसोःपयस्सु-पयः
सम्बोधनहे पयः !हे पयसी !हे पयांसि !
पयस् का शब्द रूप संस्कृत में – Payas Shabd Roop In Sanskrit


गिर् का शब्द रूप संस्कृत में – Gir Shabd Roop In Sanskrit

गिर् का शब्द रूप संस्कृत में – Gir Shabd Roop In Sanskrit

गिर् का शब्द रूप संस्कृत में – Gir Shabd Roop In Sanskrit

यहां पढ़ें गिर् शब्द रूप की सभी विभक्ति और वचन संस्कृत भाषा में। गिर् शब्द का अर्थ होता है 'वाणी'। गिर् शब्द रूप रकारांत स्त्रीलिंग होता है।

गिर् का शब्द रूप संस्कृत में

विभक्तिएकवचनद्विवचनबहुवचन
प्रथमा गीःगिरौगिरः
द्वितीया गिरम्गिरौगिरः
तृतीया गिरागीर्भ्याम्गीर्भिः
चतुर्थी गिरेगीर्भ्याम्गीर्भ्यः
पंचमी गिरःगीर्भ्याम्गीर्भ्यः
षष्‍ठी गिरःगिरोःगिराम्
सप्‍तमी गिरिगिरोःगीर्षु
सम्बोधनहे गीः!हे गिरौ!हे गिरः!

Gir Shabd Roop in Sanskrit

Gir Shabd Roop In Sanskrit


रुच् धातु के रूप संस्कृत में – Ruch Dhatu Roop In Sanskrit

रुच् धातु के रूप संस्कृत में – Ruch Dhatu Roop In Sanskrit

रुच् धातु के रूप संस्कृत में – Ruch Dhatu Roop In Sanskrit

यहां पढ़ें रुच् धातु रूप के पांचो लकार संस्कृत भाषा में। रुच् धातु का अर्थ होता है 'अच्छा लगना'। रुच् धातु रूप के सभी लकारों में धातु रूप नीचे दिये गये हैं।

रुच् धातु के पांच लकार इस प्रकार है 

रुच् धातु रूप लट् लकार - वर्तमान काल

पुरुषएकवचनद्विवचनबहुवचन
प्रथम पुरुष रोचतेरोचेतेरोचन्ते
मध्यम पुरुषरोचसे रोचेथेरोचध्वे
उत्तम पुरुषरोचेरोचावहे रोचामहे

रुच् धातु रूप लोट् लकार - आदेशवाचक

पुरुषएकवचनद्विवचनबहुवचन
प्रथम पुरुषरोचताम्रोचेताम्रोचन्ताम्
मध्यम पुरुषरोचस्वरोचेथामरोचध्वम्
उत्तम पुरुषरोचैरोचावहैरोचामहै

रुच् धातु रूप लङ् लकार - भूतकाल

पुरुषएकवचनद्विवचनबहुवचन
प्रथम पुरुषअरोचतअरोचेताम्अरोचन्त
मध्यम पुरुषअरोचथाःअरोचेथाम्अरोचध्वम्
उत्तम पुरुषअरोचेअरोचावहिअरोचामहि

रुच् धातु रूप विधिलिङ् लकार - चाहिए के अर्थ में

पुरुषएकवचनद्विवचनबहुवचन
प्रथम पुरुषरोचेतरोचेयाताम्रोचेरन्
मध्यम पुरुषरोचेथाःरोचेयाथाम्रोचेध्वम्
उत्तम पुरुषरोचेयरोचेवहिरोचेमहि

रुच् धातु रूप लृट् लकार - भविष्य काल

पुरुषएकवचनद्विवचनबहुवचन
प्रथम पुरुषरोचिष्यतेरोचिष्येतेरोचिष्यन्ते
मध्यम पुरुषरोचिष्यसेरोचिष्येथेरोचिष्यध्वे
उत्तम पुरुषरोचिष्येरोचिष्यावहेरोचिष्यामहे
रुच् धातु के रूप संस्कृत में – Ruch Dhatu Roop In Sanskrit

Related Dhatu Roop in Sanskrit


Tuesday, 27 July 2021

मुद् धातु के रूप संस्कृत में – Mud Dhatu Roop In Sanskrit

मुद् धातु के रूप संस्कृत में – Mud Dhatu Roop In Sanskrit

मुद् धातु के रूप संस्कृत में – Mud Dhatu Roop In Sanskrit

यहां पढ़ें मुद् धातु रूप के पांचो लकार संस्कृत भाषा में। मुद् धातु का अर्थ होता है 'आनंदित होना'। मुद् धातु रूप के सभी लकारों में धातु रूप नीचे दिये गये हैं।

मुद् धातु के पांच लकार इस प्रकार है 

मुद् धातु रूप लट् लकार - वर्तमान काल

पुरुषएकवचनद्विवचनबहुवचन
प्रथम पुरुषमोदतेमोदेतेमोदन्ते
मध्यम पुरुषमोदसे मोदेथेमोदध्वे
उत्तम पुरुषमोदेमोदावहे मोदामहे

मुद् धातु रूप लोट् लकार - आदेशवाचक

पुरुषएकवचनद्विवचनबहुवचन
प्रथम पुरुषमोदताम्मोदेताम्मोदन्ताम्
मध्यम पुरुषमोदस्वमोदेथाममोदध्वम
उत्तम पुरुषमोदैमोदावहैमोदामहै

मुद् धातु रूप लङ् लकार - भूतकाल

पुरुषएकवचनद्विवचनबहुवचन
प्रथम पुरुषअमोदतअमोदेताम्अमोदन्त
मध्यम पुरुषअमोदथाःअमोदेथाम्अमोदध्वम्
उत्तम पुरुषअमोदेअमोदावहिअमोदामहि

मुद् धातु रूप विधिलिङ् लकार - चाहिए के अर्थ में

पुरुषएकवचनद्विवचनबहुवचन
प्रथम पुरुषमोदेतमोदेयाताम्मोदेरन्
मध्यम पुरुषमोदेथाःमोदेयाथाम्मोदेध्वम्
उत्तम पुरुषमोदेयमोदेवहिमोदेमहि

मुद् धातु रूप लृट् लकार - भविष्य काल

पुरुषएकवचनद्विवचनबहुवचन
प्रथम पुरुषमोदिष्यतेमोदिष्येतेमोदिष्यन्ते
मध्यम पुरुषमोदिष्यसेमोदिष्येथेमोदिष्यध्वे
उत्तम पुरुषमोदिष्येमोदिष्यावहेमोदिष्यामहे
मुद् धातु के रूप संस्कृत में – Mud Dhatu Roop In Sanskrit

Related Dhatu Roop in Sanskrit

गै धातु के रूप संस्कृत में – Gai Dhatu Roop In Sanskrit

गै धातु के रूप संस्कृत में – Gai Dhatu Roop In Sanskrit

गै धातु के रूप संस्कृत में – Gai Dhatu Roop In Sanskrit

यहां पढ़ें गै धातु रूप के पांचो लकार संस्कृत भाषा में। गै धातु का अर्थ होता है 'गीत गाना'। गै धातु रूप के सभी लकारों में धातु रूप नीचे दिये गये हैं।

गै धातु के पांच लकार इस प्रकार है 

गै धातु रूप लट् लकार - वर्तमान काल

पुरुषएकवचनद्विवचनबहुवचन
प्रथम पुरुषगायतिगायतःगायन्ति
मध्यम पुरुषगायसिगायथःगायथ
उत्तम पुरुषगायामिगायावःगायामः

गै धातु रूप लोट् लकार - आदेशवाचक

पुरुषएकवचनद्विवचनबहुवचन
प्रथम पुरुषगायतुगायताम्गायन्तु
मध्यम पुरुषगायगायतम्गायत
उत्तम पुरुषगायानिगायावगायाम

गै धातु रूप लङ् लकार - भूतकाल

पुरुषएकवचनद्विवचनबहुवचन
प्रथम पुरुषअगायत्अगायताम्अगायन्
मध्यम पुरुषअगायःअगायतम्अगायत
उत्तम पुरुषअगायम्अगायावअगायाम

गै धातु रूप विधिलिङ् लकार - चाहिए के अर्थ में

पुरुषएकवचनद्विवचनबहुवचन
प्रथम पुरुषगायेत्गायेताम्गायेयुः
मध्यम पुरुषगायेःगायेतम्गायेत
उत्तम पुरुषगायेयम्गायेवगायेम

गै धातु रूप लृट् लकार - भविष्य काल

पुरुषएकवचनद्विवचनबहुवचन
प्रथम पुरुषगास्यतिगास्यत:गास्यन्ति
मध्यम पुरुषगास्यसिगास्यथःगास्यथ
उत्तम पुरुषगास्यामिगास्यावःगास्यामः
गै धातु के रूप संस्कृत में – Gai Dhatu Roop In Sanskrit

Related Dhatu Roop in Sanskrit

जन् धातु के रूप संस्कृत में – Jan Dhatu Roop In Sanskrit

जन् धातु के रूप संस्कृत में – Jan Dhatu Roop In Sanskrit

जन् धातु के रूप संस्कृत में – Jan Dhatu Roop In Sanskrit

यहां पढ़ें जन् धातु रूप के पांचो लकार संस्कृत भाषा में। जन् धातु का अर्थ होता है 'उत्पन्न होना'। जन् धातु रूप के सभी लकारों में धातु रूप नीचे दिये गये हैं।

जन् धातु के पांच लकार इस प्रकार है 

जन् धातु रूप लट् लकार - वर्तमान काल

पुरुषएकवचनद्विवचनबहुवचन
प्रथम पुरुषजायतेजायेतेजायन्ते
मध्यम पुरुषजायसेजायेथेजायध्वे
उत्तम पुरुषजायेजायावहेजायामहे

जन् धातु रूप लोट् लकार - आदेशवाचक

पुरुषएकवचनद्विवचनबहुवचन
प्रथम पुरुषजायताम्जायेताम्जायन्ताम्
मध्यम पुरुषजायस्वजायेथाम्जायध्वम्
उत्तम पुरुषजायैजायावहैजायामहै

जन् धातु रूप लङ् लकार - भूतकाल

पुरुषएकवचनद्विवचनबहुवचन
प्रथम पुरुषअजायतअजायेताम्अजायन्त
मध्यम पुरुषअजायथाःअजायेथाम्अजायध्वम्
उत्तम पुरुषअजायेअजायावहिअजायामहि

जन् धातु रूप विधिलिङ् लकार - चाहिए के अर्थ में

पुरुषएकवचनद्विवचनबहुवचन
प्रथम पुरुषजायेतजायेयाताम्जायेरन्
मध्यम पुरुषजायेथाःजायेयाथाम्जायेध्वम्
उत्तम पुरुषजायेयजायेवहिजायेमहि

जन् धातु रूप लृट् लकार - भविष्य काल

पुरुषएकवचनद्विवचनबहुवचन
प्रथम पुरुषजनिष्यतेजनिष्येतेजनिष्यन्ते
मध्यम पुरुषजनिष्यसेजनिष्येथेजनिष्यध्वे
उत्तम पुरुषजनिष्येजनिष्यावहेजनिष्यामहे
जन् धातु के रूप संस्कृत में – Jan Dhatu Roop In Sanskrit

Related Dhatu Roop in Sanskrit

भक्ष् धातु के रूप संस्कृत में – Bhaksh Dhatu Roop In Sanskrit

भक्ष् धातु के रूप संस्कृत में – Bhaksh Dhatu Roop In Sanskrit

भक्ष् धातु के रूप संस्कृत में – Bhaksh Dhatu Roop In Sanskrit

यहां पढ़ें भक्ष् धातु रूप के पांचो लकार संस्कृत भाषा में। भक्ष् धातु का अर्थ होता है 'भक्षण करना'। भक्ष् धातु रूप के सभी लकारों में धातु रूप नीचे दिये गये हैं।

भक्ष् धातु के पांच लकार इस प्रकार है 

भक्ष् धातु रूप लट् लकार - वर्तमान काल

पुरुषएकवचनद्विवचनबहुवचन
प्रथम पुरुषभक्षयतिभक्षयतःभक्षयन्ति
मध्यम पुरुषभक्षयसिभक्षयथःभक्षयथ
उत्तम पुरुषभक्षयामिभक्षयावभक्षयाम

भक्ष् धातु रूप लोट् लकार - आदेशवाचक

पुरुषएकवचनद्विवचनबहुवचन
प्रथम पुरुषभक्षयतु भक्षयताम्भक्षयन्तु
मध्यम पुरुषभक्षयभक्षयतम्भक्षयत
उत्तम पुरुषभक्षयानिभक्षयावभक्षयाम

भक्ष् धातु रूप लङ् लकार - भूतकाल

पुरुषएकवचनद्विवचनबहुवचन
प्रथम पुरुषअभक्षयत्अभक्षयताम्अभक्षयन्
मध्यम पुरुषअभक्षयःअभक्षयतमअभक्षयत
उत्तम पुरुषअभक्षयम्अभक्षयावअभक्षयाम

भक्ष् धातु रूप विधिलिङ् लकार - चाहिए के अर्थ में

पुरुषएकवचनद्विवचनबहुवचन
प्रथम पुरुषभक्षयेत्भक्षयेताम्भक्षयेयुः
मध्यम पुरुषभक्षयेःभक्षयेतम्भक्षयेत
उत्तम पुरुषभक्षयेयम्भक्षयेवभक्षयेम

भक्ष् धातु रूप लृट् लकार - भविष्य काल

पुरुषएकवचनद्विवचनबहुवचन
प्रथम पुरुषभक्षयिष्यति भक्षयिष्यतःभक्षयिष्यन्ति
मध्यम पुरुषभक्षयिष्यसिभक्षयिष्यथःभक्षयिष्यथ
उत्तम पुरुषभक्षयिष्यामिभक्षयिष्यावःभक्षयिष्यामः
भक्ष् धातु के रूप संस्कृत में – Bhaksh Dhatu Roop In Sanskrit

Related Dhatu Roop in Sanskrit

पश्य/दृश् धातु के रूप संस्कृत में – Drash/Pashya Dhatu Roop In Sanskrit

पश्य/दृश् धातु के रूप संस्कृत में – Drash/Pashya Dhatu Roop In Sanskrit

पश्य/दृश् धातु के रूप संस्कृत में – Drash/Pashya Dhatu Roop In Sanskrit

यहां पढ़ें पश्य/दृश् धातु रूप के पांचो लकार संस्कृत भाषा में। पश्य/दृश् धातु का अर्थ होता है 'देखना'। पश्य/दृश् धातु रूप के सभी लकारों में धातु रूप नीचे दिये गये हैं।

पश्य/दृश् धातु के पांच लकार इस प्रकार है 

पश्य/दृश् धातु रूप लट् लकार - वर्तमान काल

पुरुषएकवचनद्विवचनबहुवचन
प्रथम पुरुषपश्यतिपश्यतःपश्यन्ति
मध्यम पुरुषपश्यसिपश्यथःपश्यथ
उत्तम पुरुषपश्यामिपश्यावःपश्यामः

पश्य/दृश् धातु रूप लोट् लकार - आदेशवाचक

पुरुषएकवचनद्विवचनबहुवचन
प्रथम पुरुषपश्यतुपश्यताम्पश्यन्तु
मध्यम पुरुषपश्यपश्यतम्पश्यत
उत्तम पुरुषपश्यानिपश्यावपश्याम

पश्य/दृश् धातु रूप लङ् लकार - भूतकाल

पुरुषएकवचनद्विवचनबहुवचन
प्रथम पुरुषअपश्यत्अपश्यताम्अपश्यन्
मध्यम पुरुषअपश्यःअपश्यतम्अपश्यत
उत्तम पुरुषअपश्यम्अपश्यावअपश्याम

पश्य/दृश् धातु रूप विधिलिङ् लकार - चाहिए के अर्थ में

पुरुषएकवचनद्विवचनबहुवचन
प्रथम पुरुषपश्येत्पश्येताम्पश्येयुः
मध्यम पुरुषपश्येःपश्येतम्पश्येत
उत्तम पुरुषपश्येयम्पश्येवपश्येम

पश्य/दृश् धातु रूप लृट् लकार - भविष्य काल

पुरुषएकवचनद्विवचनबहुवचन
प्रथम पुरुषद्रक्ष्यतिद्रक्ष्यतःद्रक्ष्यन्ति
मध्यम पुरुषद्रक्ष्यसिद्रक्ष्यथःद्रक्ष्यथ
उत्तम पुरुषद्रक्ष्यामिद्रक्ष्यावःद्रक्ष्यामः
पश्य/दृश् धातु के रूप संस्कृत में – Drash/Pashya Dhatu Roop In Sanskrit

Related Dhatu Roop in Sanskrit

Monday, 26 July 2021

शक् धातु के रूप संस्कृत में – Shak Dhatu Roop In Sanskrit

शक् धातु के रूप संस्कृत में – Shak Dhatu Roop In Sanskrit

शक् धातु के रूप संस्कृत में – Shak Dhatu Roop In Sanskrit

यहां पढ़ें शक् धातु रूप के पांचो लकार संस्कृत भाषा में। शक् धातु का अर्थ होता है 'सकना'। शक् धातु रूप के सभी लकारों में धातु रूप नीचे दिये गये हैं।

शक् धातु के पांच लकार इस प्रकार है 

शक् धातु रूप लट् लकार - वर्तमान काल

पुरुषएकवचनद्विवचनबहुवचन
प्रथम पुरुषशक्नोतिशक्नुतःशक्नुवन्ति
मध्यम पुरुषशक्नोषिशक्नुथःशक्नुथ
उत्तम पुरुषशक्नोमिशक्नुवःशक्नुमः

शक् धातु रूप लोट् लकार - आदेशवाचक

पुरुषएकवचनद्विवचनबहुवचन
प्रथम पुरुषशक्नोतुशक्नुताम्शक्नुवन्तु 
मध्यम पुरुषशक्नुहिशक्नुतम्शक्नुत
उत्तम पुरुषशक्नवानिशक्नवावशक्नवाम

शक् धातु रूप लङ् लकार - भूतकाल

पुरुषएकवचनद्विवचनबहुवचन
प्रथम पुरुषअशक्नोत्अशक्नुताम्अशक्नुवन्
मध्यम पुरुषअशक्नोःअशक्नुतम्अशक्नुत
उत्तम पुरुषअशक्नुवम्अशक्नुवअशक्नुम

शक् धातु रूप विधिलिङ् लकार - चाहिए के अर्थ में

पुरुषएकवचनद्विवचनबहुवचन
प्रथम पुरुषशक्नुयात्शक्नुयाताम्शक्नुयुः
मध्यम पुरुषशक्नुयाःशक्नुयातम्शक्नुयात
उत्तम पुरुषशक्नुयाम्शक्नुयावशक्नुयाम

शक् धातु रूप लृट् लकार - भविष्य काल

पुरुषएकवचनद्विवचनबहुवचन
प्रथम पुरुषशक्ष्यतिशक्ष्यत:शक्ष्यन्ति
मध्यम पुरुषशक्ष्यसिशक्ष्यथ:शक्ष्यथ 
उत्तम पुरुषशक्ष्यामिशक्ष्याव:शक्ष्याम:
शक् धातु के रूप संस्कृत में – Shak Dhatu Roop In Sanskrit

Related Dhatu Roop in Sanskrit

सु धातु के रूप संस्कृत में – Su Dhatu Roop In Sanskrit

सु धातु के रूप संस्कृत में – Su Dhatu Roop In Sanskrit

सु धातु के रूप संस्कृत में – Su Dhatu Roop In Sanskrit

यहां पढ़ें सु धातु रूप के पांचो लकार संस्कृत भाषा में। सु धातु का अर्थ होता है 'रस निकालना'। सु धातु रूप के सभी लकारों में धातु रूप नीचे दिये गये हैं।

सु धातु के पांच लकार इस प्रकार है 

सु धातु रूप लट् लकार - वर्तमान काल

पुरुषएकवचनद्विवचनबहुवचन
प्रथम पुरुषसुनोतिसुनुतःसुन्वन्ति
मध्यम पुरुषसुनोषिसुनुथःसुनुथ
उत्तम पुरुषसुनोमिसुनुवः ,सुन्वःसुनुमः, सुन्मः

सु धातु रूप लोट् लकार - आदेशवाचक

पुरुषएकवचनद्विवचनबहुवचन
प्रथम पुरुषसुनोतुसुनुताम्सुन्वन्तु
मध्यम पुरुषसुनुसुनुतम्सुनुत
उत्तम पुरुषसुनवानिसुनवावसुनवाम

सु धातु रूप लङ् लकार - भूतकाल

पुरुषएकवचनद्विवचनबहुवचन
प्रथम पुरुषअसुनोत्असुनुताम्असुन्वन्
मध्यम पुरुषअसुनोःअसुनुतम्असुनुत
उत्तम पुरुषअसुन्वम्असुनुव, असुन्वअसुनुम, असुन्म

सु धातु रूप विधिलिङ् लकार - चाहिए के अर्थ में

पुरुषएकवचनद्विवचनबहुवचन
प्रथम पुरुषसुनुयात्सुनुयाताम्सुनुयुः
मध्यम पुरुषसुनुयाःसुनुयातम्सुनुयात
उत्तम पुरुषसुनुयाम्सुनुयावसुनुयाम

सु धातु रूप लृट् लकार - भविष्य काल

पुरुषएकवचनद्विवचनबहुवचन
प्रथम पुरुषसोष्यतिसोष्यतःसोष्यन्ति
मध्यम पुरुषसोष्यसिसोष्यथःसोष्यथ
उत्तम पुरुषसोष्यामिसोष्यावःसोष्यामः
सु धातु के रूप संस्कृत में – Su Dhatu Roop In Sanskrit

Related Dhatu Roop in Sanskrit