Monday, 20 May 2019

10 Lines on Rahim Das in Hindi

10 Lines on Rahim Das in Hindi

10 Lines on Rahim Das in Hindi

  1. रहीम दास जी का जन्म सन् 1556 में लाहौर में हुआ था। 
  2. रहीम दास का पूरा नाम अब्दुर्रहीम ख़ान-ए-ख़ाना था। 
  3. अब्दुर्रहीम ख़ान-ए-ख़ाना मुगल बादशाह अकबर के नवरत्नों में से एक थे। 
  4. वह बैरम खाँ तथा सलीमा सुल्ताना बेगम के पुत्र थे। 
  5. रहीम के पिता बैरम खाँ तेरह वर्षीय अकबर के शिक्षक तथा संरक्षक थे। 
  6. रहीम अरबी, तुर्की, फ़ारसी, संस्कृत और हिन्दी के अच्छे ज्ञाता थे। 
  7. रहीम का व्यक्तित्व बहुमुखी प्रतिभा-संपन्न था। 
  8. रहीम दास जी एक कुशल सेनापति, कूटनीतिज्ञ, कवि एवं विद्वान थे। 
  9. रहीम का पालन-पोषण अकबर ने अपने धर्म-पुत्र की तरह किया। 
  10. रहीम का विवाह लगभग सोलह साल की उम्र में माहबानों बेगम हुआ। 
  11. रहीम ने अपनी रचनाओं में अवधी और ब्रजभाषा का प्रयोग किया है। 
  12. मुग़ल बादशाह अकबर ने रहीम को 'मीरअर्ज' की उपाधि से विभूषित किया। 
  13. 1583 में उन्हें शहज़ादे सलीम का शिक्षक नियुक्त किया गया। 
  14. रहीम दास जी मुसलमान होते हुए भी भगवान कृष्ण के भक्त थे। 
  15. उनके काव्य में नीति, भक्ति–प्रेम तथा श्रृंगार आदि के दोहों का समावेश है। 
  16. रहीम दोहावली, बरवै, नायिका भेद, मदनाष्टक आदि उनकी प्रमुख रचनाये हैं।
  17. 70 वर्ष की उम्र में 1626 ई. में रहीम का देहांत हो गया। 
  18. रहीम का मकबरा, मुगल बादशाह हुमायूं के मकबरे के नजदीक स्थित है। 
Related Articles :
10 Lines on Sarojini Naidu in Hindi

10 Lines on Sarojini Naidu in Hindi

10 Lines on Sarojini Naidu in Hindi

10 Lines on Sarojini Naidu in Hindi
  1. सरोजिनी नायडू एक भारतीय स्वतंत्रता क्रांतिकारी और कवयित्री थीं। 
  2. सरोजनी नायडू का जन्म 13 फरवरी 1879 को हैदराबाद में हुआ। 
  3. सरोजिनी नायडू को नाइटिंगेल ऑफ इंडिया के नाम से भी जाना जाता है। 
  4. वह आठ भाई-बहनों में सबसे बड़ी थी। 
  5. वह अघोर नाथ चट्टोपाध्याय और बरदा सुंदरी देवी की बेटी थीं। 
  6. उनकी माँ बरदा सुंदरी देवी चट्टोपाध्याय बंगाली में कविता लिखती थीं।
  7. उनके पिता अघोरनाथ चट्टोपाध्याय हैदराबाद में निज़ाम कॉलेज के प्रिंसिपल थे।
  8. उन्होंने डॉ गोविंदराजुलु नायडू से शादी की और हैदराबाद में बस गईं।
  9. उन्होंने महात्मा गाँधी के साथ कई राष्ट्रीय आंदोलनों में भी हिस्सा लिया।
  10. भारत में प्लेग महामारी के दौरान उन्हें उन्हें कैसर-ए-हिंद उपाधि से सम्मानित किया गया।
  11. सन् 1925 में सरोजिनी नायडू को कांग्रेस का अध्यक्ष चुना गया। 
  12. वह 1905 में बंगाल के विभाजन के बाद भारतीय राष्ट्रीय आंदोलनों में शामिल हो गई। 
  13. उन्होंने 1930 में नमक कानून तोड़ने के लिए महात्मा गाँधी के साथ डाँडी यात्रा की। 
  14. उन्हें भारत की स्वतंत्रता के तुरंत बाद उत्तर प्रदेश राज्य का राज्यपाल नियुक्त किया गया था। 
  15. 2 मार्च 1949 को दिल का दौरा पड़ने से सरोजिनी नायडू की लखनऊ में मृत्यु हो गई। 
Related Articles:

Sunday, 19 May 2019

10 Lines about Starfish in Hindi

10 Lines about Starfish in Hindi

10 Lines about Starfish in Hindi

  1. स्टारफिश एक समुद्री जीव है। 
  2. यह दुनिया के सभी महासागरों में पाई जाती हैं। 
  3. स्टारफिश को तारामीन या सी-स्टार भी कहते है। 
  4. स्टारफिश की आकृति तारे जैसी होती है। 
  5. तारा मछली की अधिकांश प्रजातियों में 5 भुजाएं होती हैं। 
  6. आम तौर पर उनकी लंबाई 5 से 10 इंच होती है। 
  7. उनमें ना तो दिमाग होता है और ना ही रक्त। 
  8. स्टारफिश केवल खारे पानी में ही पाई जाती हैं। 
  9. दुनिया में स्टारफिश की 2000 से अधिक प्रजातियां हैं।
  10. स्टारफिश अपनी नष्ट भुजाओं को पुनः विकसित कर लेती है। 
  11. स्टारफ़िश की प्रत्येक भुजा के शीर्ष पर छोटी सूक्ष्म आँखें होती हैं। 
  12. तारे के आकार के ये समुद्री जीव वास्तव में मछली नहीं होते। 
  13. स्टारफिश में ना तो मछली के समान पंख होते हैं और ना ही श्वसन के लिए गलफड़े। 
  14. स्टारफिश तो समुद्री अकशेरुकी जीवो के समूह से संबंधित है। 
  15. तारा मछली गहरे समुद्र और उथले पानी दोनों में ही पाई जाती है। 
  16. स्टारफिश ट्यूब फीट का उपयोग करके चलती है। 
मेरा कमरा निबंध-एस्से इन हिंदी। My Room Essay in hindi

मेरा कमरा निबंध-एस्से इन हिंदी। My Room Essay in hindi

मेरा कमरा निबंध-एस्से इन हिंदी। My Room Essay in hindi

मुझे अपने कमरे से बहुत प्यार है। मेरा कमरा बहुत सुंदर है। मेरे कमरे का रंग हरा है। मैं कमरे में जो भी चाहता हूं, करता हूं। मैं अपने दोस्तों के साथ वहां खेलता हूं। मेरे कमरे में मेरा एक बिस्तर है। जहां मैं अपने टेडी बियर को गले लगाकर सोता हूं। मेरे कमरे में एक भूरे रंग की अलमारी है, जिसमे मैं अपनी पोशाक और सामान रखता हूं। मेरी अलमारी पर एक बड़ा सुपरमैन का स्टिकर है। अलमारी के सामने एक दर्पण है। मेरे पास खेलने के लिए कई खिलौने और एक बड़ा सा टेडी बियर हैं। वहाँ एक शेल्फ भी है जहाँ मैं अपने बैग और खिलौने रखता हूँ। जब मैं खुश होता हूं तो बिस्तर पर कूदता हूं। जब मेरी माँ मुझे बिस्तर पर कूदते हुए देखती है तो वह चिल्लाती है। मेरे कमरे में भी प्यारे-प्यारे पोस्टर हैं जिन्हें मैं दीवारों पर चिपका देता हूं। अलमारी के नीचे एक रैक है, जहां मैं अपनी चप्पल और जूते रखता हूं। मेरे कमरे के दरवाजे पर एक गिटार का स्टिकर है। अपने जन्मदिन और अन्य त्योहारों के दौरान, मैं अपने कमरे को रंगीन गुब्बारों से सजाता हूँ। 
Essay on Shinchan in Hindi शिनचैन पर निबंध

Essay on Shinchan in Hindi शिनचैन पर निबंध

Essay on Shinchan in Hindi शिनचैन पर निबंध

क्रेयॉन शिनचैन एक जापानी कार्टून है। यह कार्टून पहली बार 1990 में शुरू किया गया था। यह कार्टून भारत के बहुत लोकप्रिय कार्टून में से एक है। यह कार्टून न केवल भारत में पसंद किया जाता है, बल्कि अन्य विदेशी देशों जैसे नीदरलैंड, बेल्जियम, इटली, जर्मनी, स्पेन आदि में भी बहुत पसंद किया जाता है। यह कार्टून पांच साल के लड़के शिंचन के कारनामों के बारे में है।

शिनचैन बहुत ही शरारती लेकिन प्यारा बच्चा था। उनके जीवन में कई रोमांच हैं। उनके परिवार में उनकी माँ (मित्सी), पिता (हिरोशी) और एक बहन (हिमवारी) हैं। शिनचैन के पिता एक कंपनी में कर्मचारी है। वह शिन चान से अधिक हिममारी से प्यार करते है। लेकिन अपनी पत्नी मित्सि नोहरा से डरता है। शिनचैन की मां, मित्सि, शिन चान के बाद मुख्य चरित्र है। वह एक आदर्श गृहिणी है। वह परिवार के सभी सदस्यों की देखभाल करती है।उसके कई दोस्त भी हैं। 

उनके दोस्तों का नाम कसामा, सुजुकी, मासाओ, नानी और आईचैन है। वह एक बालवाड़ी स्कूल में जाता है। उन्होंने एक "कसुकबे रक्षा समूह" का गठन किया है। शिनचैन उन सभी में से सबसे शरारती है।

एक बार शिंचन की माँ ने उसे मटर और कैपिसिकम से बना रात का खाना परोसा; जिससे शिनचैन को बहुत नफरत थी। उसकी मां ने उसे खाने के लिए कहा था, लेकिन वह इसे नहीं खाना चाहता था। इसलिए उसकी मां ने उन्हें घर से निकाल दिया। कुछ घंटों के लिए वह घर के बाहर इंतजार करता रहा लेकिन उसे अपनी माँ से कोई प्रतिक्रिया नहीं मिली। फिर अपनी माँ से कोई प्रतिक्रिया न मिलने के बाद वह अपने दोस्त मासाओ के घर  गया। वहां उसने बिना किसी तनाव के टीवी देखना शुरू कर दिया, लेकिन उनके माता-पिता बगीचे से उनके लापता होने के बारे में चिंतित हो गए और वे उसे खोज रहे थे। हालाँकि शिनचैन आराम से मन लगाकर टीवी देख रहा था।
इस एपिसोड को देखने में मुझे इतना मजा आया की तबसे शिनचैन मेरा प्रिय कार्टून पत्र बन गया। 

Saturday, 18 May 2019

Few lines on Railway Station in Hindi रेलवे स्टेशन पर छोटा निबंध

Few lines on Railway Station in Hindi रेलवे स्टेशन पर छोटा निबंध

Few lines on Railway Station in Hindi रेलवे स्टेशन पर छोटा निबंध

Few lines on Railway Station in Hindi रेलवे स्टेशन पर छोटा निबंध
  1. रेलवे स्टेशन वह स्थान होता है जहां से ट्रेनें चलती हैं और आकर रूकती हैं। 
  2. रेलवे स्टेशन की इमारत आमतौर पर लाल ईंटों से बनी होती है। 
  3. रेलवे स्टेशन के बाहर वाहनों को खड़ा करने के लिए एक बड़ी पार्किंग होती है। 
  4. रेलवे स्टेशन सबके मेल-मिलाप का एक आकर्षक स्थान होता है। 
  5. जब रेल गाड़ी प्लेटफार्म पर आती है तो रेलवे स्टेशन शोरगुल और हलचल से भर जाता है। 
  6. प्रत्येक रेलवे स्टेशन में पुरुष और महिला यात्रियों के लिए अलग-अलग प्रतीक्षालय होते हैं। 
  7. प्रत्येक रेलवे स्टेशन में एक टिकट काउंटर रेस्तरां बुक स्टॉल पर स्टेशन मास्टर का कमरा होता है। 
  8. रेलवे स्टेशन में पुरुष महिलाओं और सीनियर सिटीजन के लिए तीन अलग टिकट काउंटर होते हैं। 
  9. रेलवे स्टेशन में यात्रियों के लिए एक या एक से अधिक प्लेटफार्म हो सकते हैं। 
  10. बड़े रेलवे स्टेशनों में प्रत्येक प्लेटफार्म के ऊपर एक टीन का शेड भी होता है। 
  11. रेलवे स्टेशन में रेल गाड़ी को संकेत देने के लिए लाल हरी और पीली तीन प्रकार की बत्तियां होती हैं। 

Friday, 17 May 2019

Chuhe par Panch vakya in hindi-चूहे पर पांच वाक्य इन हिंदी

Chuhe par Panch vakya in hindi-चूहे पर पांच वाक्य इन हिंदी

Chuhe par Panch vakya in hindi-चूहे पर पांच वाक्य इन हिंदी

Chuhe par Panch vakya in hindi-चूहे पर पांच वाक्य इन हिंदी
  1. चूहा एक छोटा स्तनधारी प्राणी हैं।
  2. इसका वैज्ञानिक नाम Rattus (रट्टूस) हैं।
  3. चूहों की बड़ी-बड़ी मूछें भी होती हैं। 
  4. यह संसार के सभी देशों में पाये जाते हैं।
  5. चूहे को भगवान गणेश का वाहन भी माना जाता है। 
  6. चूहा के चार पैर, दो कान और एक पूंछ होती हैं।
  7. चूहों को कुछ भी कुतरने की आदत होती है। 
  8. ये भूरे, काले और सफ़ेद रंग के होते हैं।
  9. चूहे घरो में या जमीन में बिल बनाकर रहते हैं।
  10. एक सामान्य चूहे का जीवनकाल 2 वर्ष का होता है।
  11. चूहे सर्वाहारी प्राणी होते हैं।
  12. चूहे फल, बीज और अनाज खाना पसंद करते हैं।
  13. ये कई दिनों तक बिना पानी के जिन्दा रह सकते हैं। 
  14. चूहों की देखने की क्षमता कम होती हैं।
  15.  इसके सूँघने और चखने की क्षमता बहुत अधिक होती हैं।
  16. सेना में चूहों का प्रयोग बारूदी सुरंगों का पता लगाने में किया जाता है।
Related Articles :
Few Lines on Balloon in Hindi -गुब्बारे पर छोटा निबंध

Few Lines on Balloon in Hindi -गुब्बारे पर छोटा निबंध

Few Lines on Balloon in Hindi-गुब्बारे पर छोटा निबंध

Few Lines on Balloon in Hindi-गुब्बारे पर छोटा निबंध
  1. गुब्बारा रबड़ से बना एक लचीला पाउच होता है। 
  2. गुब्बारे का आविष्कार सन 1824 में माइकल फैराडे ने किया। 
  3. गुब्बारे रंग बिरंगे तथा आकर्षक होते हैं। 
  4. गुब्बारे में हीलियम हाइड्रोजन या साधारण हवा भरी होती है। 
  5. बच्चों से लेकर बड़ों तक गुब्बारा सभी को प्रिय होता है। 
  6. गुब्बारे के फूटने पर धमाके की आवाज होती है। 
  7. बड़े गुब्बारों का प्रयोग हवाई यात्रा के लिए किया जाता है। 
  8. गुब्बारे अलग-अलग आकार तथा आकृतियों में आते हैं। 
  9. गुब्बारे का प्रयोग सजावट के लिए भी किया जाता है। 
  10. कुछ गुब्बारों में पानी भरा जाता है जिन्हें वॉटर बैलून कहते हैं। 
छोटा भीम कार्टून पर निबंध। My Favourite Cartoon Chota Bheem Essay in hindi

छोटा भीम कार्टून पर निबंध। My Favourite Cartoon Chota Bheem Essay in hindi

छोटा भीम कार्टून पर निबंध। My Favourite Cartoon Chota Bheem Essay in hindi

छोटा भीम मेरे पसंदीदा कार्टून चरित्रों में से एक है। भीम एक छोटा लड़का है जो ढोलकपुर नाम के गांव में रहता है। वह एक अच्छा और बहुत ही ताकतवर लड़का है। उसकी पसंदीदा मिठाई टुनटुन मौसी द्वारा बनाए गए लड्डू हैं। टुन टुन चाची छुटकी की माँ है। वह भी अपने लड्डू की तरह आकार में गोल है।

My Favourite Cartoon Chota Bheem Essay in hindi
ढोलकपुर के राजा इंद्रवर्मा हैं और उनकी बेटी का नाम राजकुमारी इंदुमती है। भीम के सबसे अच्छे दोस्त राजू, जग्गू और छुटकी हैं। उनके दुश्मन कालिया, ढोलू और भोलू हैं। कालिया को हमेशा भीम से जलन होती है, लेकिन भीम उसे भी पसंद करता है। भीम इतना अच्छा है कि जब भी कालिया मुसीबत में पड़ता है तो वह हमेशा कालिया की मदद करता है। यहां तक ​​कि कालिया भी जरूरत पड़ने पर भीम की मदद करना नहीं भूलता। ढोलू और भोलू, एक जैसे जुड़वां बच्चे भी हैं। कार्टून श्रृंखला में हम भीम को ढोलकपुर और पड़ोसी राज्य में सभी की मदद करते हुए देखते हैं। उसने अपने दोस्त जग्गू, बंदर के लिए एक ट्री हाउस बनाया। वह डकैतों से अकेले लड़ता है और लोगों से लूटी गई चीजों को वापस पाता है। 

गलत होने पर भीम अपने दोस्तों से बहस करता है। जब किसान खेत पर काम करते हैं और जानवर उन पर हमला करते हैं, तो भीम उनकी मदद करता है। भीम बहुत बुद्धिमान और बुद्धिमान है, उसकी कहानियाँ बहुत ही रोमांचक हैं। वह सभी समस्याओं को बहुत आसानी से हल करता है।

भीम के ये सभी गुण उसे मेरा पसंदीदा चरित्र बनाते हैं। मैं उसकी तरह एक अच्छा इंसान बनना चाहता हूं। लेकिन जैसा कि आप जानते हैं कि भीम असली चरित्र नहीं है, इसलिए हमें उसकी नकल नहीं करनी चाहिए।

Thursday, 16 May 2019

Few Lines about Hyderabad in Hindi

Few Lines about Hyderabad in Hindi

Few Lines about Hyderabad in Hindi

  1. हैदराबाद भारत के राज्य तेलंगाना तथा आन्ध्र प्रदेश की संयुक्त राजधानी है
  2. हैदराबाद को 'निज़ामों का शहर' तथा 'मोतियों का शहर' भी कहा जाता है।
  3. यह भारत का चौथा सबसे अधिक आबादी वाला शहर है। 
  4. हैदराबाद दक्कन के पठार पर मूसी नदी के किनारे स्थित है। 
  5. 1591 में मुहम्मद कुली कुतुब शाह ने हैदराबाद शहर की स्थापना की।
  6. बॉलीवुड के बाद भारत का दूसरा सबसे बड़ा सिनेमा उद्योग टॉलीवुड हैदराबाद में है। 
  7. विश्व का सबसे बड़ा फिल्म स्टूडियो रामोजी फिल्म सिटी भी हैदराबाद में ही है। 
  8. प्राचीन काल में हैदराबाद को भाग्यनगर के नाम से जाना जाता था। 
  9. हैदराबाद को सिकंदराबाद का जुड़वां शहर भी कहा जाता है। 
  10. यह भारत में सूचना प्रौधोगिकी एवं जैव प्रौद्यौगिकी का प्रमुख केन्द्र है।
  11. हैदराबाद अपनी बहुभाषी संस्कृति तथा स्वादिष्ट व्यंजन के लिए जाना जाता है।
  12. इस शहर का मुख्य आकर्षण चारमीनार, हुसैन सागर झील, बिड़ला मंदिर आदि है। 
  13. हैदराबाद विश्व प्रसिद्ध टेनिस खिलाड़ी सानिया मिर्जा का घर भी है। 
नारियल पर वाक्य। Few lines on Coconut Tree in Hindi

नारियल पर वाक्य। Few lines on Coconut Tree in Hindi

नारियल पर वाक्य। Few lines on Coconut Tree in Hindi

नारियल पर वाक्य। Few lines on Coconut Tree in Hindi
  1. नारियल को अंग्रेजी में कोकोनट कहा जाता है। 
  2. नारियल का वृक्ष पाम की प्रजाति का विशाल पेड़ है। 
  3. नारियल का वैज्ञानिक नाम कोकस न्यूशिफेरा होता है। 
  4. इसका तना लम्बा तथा शाखा रहित होता है।
  5. यह पेड़ लगभग 100 वर्षों तक जीवित रहते हैं। 
  6. नारियल के फल से हमें गिरी प्राप्त होती है। 
  7. नारियल की गिरी से हमें नारियल का तेल तथा दूध प्राप्त होता है। 
  8. नारियल को कल्पवृक्ष व श्रीफल के नाम से भी जाना जाता है। 
  9. नारियल का पेड़ समुद्र तटीय इलाकों में पाया जाता है। 
  10. भारतीय धर्म और संस्कृति में नारियल का बहुत महत्व है।
  11. हिंदू धर्म के अनुसार नारियल की रचना ऋषि विश्वामित्र ने की थी। 
  12. नारियल को जीवनदायी वृक्ष माना जाता है। 
  13. नारियल का फल प्रोटीन तथा कैल्शियम का अच्छा स्रोत है। 
  14. नारियल पानी भी पोषक तत्वों से भरपूर होता है। 
  15. नारियल के पेड़ का प्रत्येक भाग उपयोगी होता है। 
  16. नारियल के रेशे का प्रयोग चटाई बनाने में किया जाता है। 
  17. इंडोनेशिया विश्व में नारियल का सबसे बड़ा उत्पादक देश है। 
  18. नारियल उत्पादन में भारत का विश्व में तीसरा स्थान है। 
  19. भारत में तमिलनाडु केरल और कर्नाटक आदि राज्यों में नारियल पाया जाता है। 
  20. कई लोगों के लिए, नारियल का पेड़ आजीविका का एक स्रोत है।

Wednesday, 15 May 2019

Few Lines on Honey Bee in Hindi

Few Lines on Honey Bee in Hindi

Few Lines on Honey Bee in Hindi

  1. मधुमक्खी एक छोटे आकार का शाकाहारी  कीट है। 
  2. मधुमक्खी से हमें शहद और मोम प्राप्त होता है। 
  3. मधुमक्खी का जीवन काल 45 दिन का होता है। 
  4. मधुमक्खी के पास कांटेदार डंक होता है। 
  5. खतरे का आभास पर यह डंक से हमला करती हैं। 
  6. मधुमक्खी के दो जोड़ी पंख व 6 पैर होते हैं। 
  7. मधुमक्खी की दो बड़ी तथा तीन छोटी आँखें होती हैं। 
  8. मधुमक्खियां पेड़ों पर छत्ता बनाकर रहती हैं। 
  9. मधुमक्खियाँ एक संगठित समाज में रहती हैं। 
  10. प्रत्येक छत्ते में मधुमक्खियों की एक रानी होती है। 
  11. मधुमक्खियों के 2 पेट होते हैं - एक खाने और दूसरा फूल का रस रखने के लिए। 
  12. मधुमक्खियां फूलों से रस व पराग एकत्र करती हैं। 
  13. मधुमक्खी कई प्रकार की होती हैं जैसे रानी, श्रमिक व ड्रोन। 
  14. एक छत्ते में ही 40000 से अधिक मधुमक्खियां हो सकती हैं। 
  15. मधुमक्खियां  नृत्य का उपयोग करके संवाद करती हैं। 
  16. मधुमक्खियों  पौधों के बीजों को तथा एक स्थान से दूसरे स्थान पर पहुंचाती हैं। 
  17. रोजगार के लिए मधुमक्खी पालन किया जाता है। 
Related Articles:
डॉल्फिन पर निबंध। Essay on Dolphin in Hindi

डॉल्फिन पर निबंध। Essay on Dolphin in Hindi

डॉल्फिन पर निबंध। Essay on Dolphin in Hindi

डॉल्फ़िन अत्यधिक बुद्धिमान जलीय स्तनधारी जीव हैं। अधिकांश डॉल्फिन की प्रजातियां समुद्र के पानी में रहती हैं जबकि कुछ प्रजातियां मीठे मीठे पानी में पायी जाती हैं जैसे गंगा नदी की डॉलफिन।

डॉलफिन पर निबंध। Essay on Dolphin in Hindi
डॉल्फ़िन पॉड्स नामक बड़े समूहों में रहती हैं। एक झुण्ड में 12 या अधिक डॉलफिन हो सकती हैं। वे सामाजिक और बहुत चंचल जीव हैं। वे अक्सर झुंड के अन्य सदस्यों के साथ खेलती हैं। भले ही वे खेलना पसंद करती हैं, वे बहुत दयालु भी हैं। जब भी आवश्यक हो वे झुंड के बूढ़े या बीमार सदस्यों की देखभाल करती हैं।

वास्तव में डॉल्फिन मछली नहीं है क्योंकि इसमें अन्य मछलियों की भांति गलफड़े नहीं होते। इस कारण वह पानी में सांस नहीं ले पाती हैं। डॉल्फिन के सिर के ऊपर एक छेद होता है जिससे वह सांस लेती हैं। सांस लेने के लिए डॉल्फिन को पानी की सतह पर आना पड़ता है।

डॉल्फिन मछलियां एक आंख खुली रखकर सोती हैं। इस प्रकार उनका आधा मस्तिष्क सो जाता है तथा दूसरा आधा हिस्सा जागृत रहता है। जिस कारण सोते वक्त भी वह आने वाले खतरों पर नजर रखती हैं और उन्हें पता रहता है कि सांस लेने के लिए कब सतह पर जाना है।

डॉल्फिन व्हेल की प्रजाति की मछली है। यह मांसाहारी होती है। इनका मुख्य आहार स्क्विड तथा अन्य छोटी मछली होती हैं। डॉल्फिन के मुंह में 100 दांत होते हैं। बड़ी संख्या में दांतों के बावजूद, वे अपना भोजन नहीं चबाती - वे सीधे अपने शिकार को निगल जाती हैं। 

डॉल्फ़िन शिकार और शिकारियों का पता लगाने के लिए इकोलोकेशन का उपयोग करते हैं। डॉल्फिन इकोलोकेशन का उपयोग करके ऑब्जेक्ट के प्रकार और आकार, उसकी गति और स्थान की पहचान कर सकती है। इकोलोकेशन के अलावा, डॉल्फ़िन एक दूसरे के साथ संवाद करने के लिए सीटी, स्क्वैक्स और स्क्वॉक्स का उपयोग करते हैं।

डॉल्फ़िन को दुनिया भर के विभिन्न एक्वैरियम में देखा जा सकता है। वे बहुत सारे गुर सीखने में सक्षम हैं क्योंकि उनके पास उत्कृष्ट मस्तिष्क है। डॉल्फ़िन को सबसे बुद्धिमान जीवों में से एक माना जाता है। वे मिलनसार और बेहद चंचल होते हैं। उन्हें प्रशिक्षित करना भी आसान है। इन गुणों ने उन्हें कई लोगों का पसंदीदा बना दिया है।

Tuesday, 14 May 2019

मधुमक्खी पर निबंध। Essay on Honey Bee in Hindi

मधुमक्खी पर निबंध। Essay on Honey Bee in Hindi

मधुमक्खी पर निबंध। Essay on Honey Bee in Hindi

मधुमक्खी पर निबंध। Essay on Honey Bee in Hindi
मधुमक्खी एक छोटे आकार का कीट है जो दुनिया भर के जंगलों घास के मैदानों उद्यानों में निवास करती है। मधुमक्खी से हमें शहद प्राप्त होता है, जो अत्यंत पौष्टिक और स्वादिष्ट होता है। मधुमक्खियां छत्ता बनाकर रहती हैं। एक मधुमक्खी का औसतन जीवन काल 45 दिनों तक का होता है। प्रत्येक छत्ते में मधुमक्खियों की एक रानी होती है, जो छत्ते को आबाद करती है। मधुमक्खियां फूलों से रस व पराग एकत्र करती हैं जिसका उपयोग व शहद बनाने के लिए करती हैं। गर्मियों के दौरान केवल एक छत्ते में ही 40000 से अधिक मधुमक्खियां हो सकती हैं 

मधुमक्खियों की भाषा : मधुमक्खियां विशिष्ट नृत्य का उपयोग करके संवाद करती हैं। एक निश्चित तरीके से की गयी उड़ान से मधुमक्खियां अन्य मधुमक्खियों को पराग या आने वाले खतरे से आगाह करने के लिए करती हैं 

मधुमक्खियों का भोजन : मधुमक्खियां एक शाकाहारी कीट होती हैं और विशुद्ध रूप से पौधों के पोषक तत्वों पर निर्भर करती हैं। मधुमक्खियां फूलों का रास, पराग मीठे फल और यहां तक कि शहद खाना पसंद करती हैं। 

मधुमक्खियों के शिकारी : उनके छोटे आकार के कारण मधुमक्खियों के शिकारियों की संख्या अधिक होती है। पक्षी, छोटे स्तनधारी, सरीसृप और अन्य कीट मधुमक्खी का शिकार करने के लिए जाने जाते हैं। बड़े जानवर जैसे भालू शहद के छत्ते को नष्ट करने के लिए कुख्यात हैं, ताकि वह शहद खा सकें। 

मधुमक्खी का समाज : मधुमक्खियाँ एक संगठित समाज में रहती हैं जो मज़दूर मधुमक्खियों, ड्रोन और रानी से बनी होता हैं। प्रत्येक प्रकार की मधुमक्खी को आसानी से पहचाना जा सकता है क्योंकि प्रत्येक की विशिष्ट उपस्थिति, शरीर का रंग और कार्य होता है। मधुमक्खी के प्रत्येक छत्ते में एक रानी मक्खी होती है। वह अंडे देती है। वह अपने अंडे 1 गोल आकार के गुंबद में रखती है। जिसे वह फिर मोम से बंद कर देती है। इस प्रकार जब अंडे से लारवा बाहर निकलते हैं तो उन्हें पहले इस सीलबंद गुंबद को तोड़ना पड़ता है। 

पर्यावरण में भूमिका : मधुमक्खियों को पर्यावरण में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने के लिए जाना जाता है वे पौधों के बीजों को तथा एक स्थान से दूसरे स्थान पर पहुंचाती हैं। इस प्रकार पेड़-पौधों की 80% से ज्यादा प्रजातियां मधुमक्खियों के कारण ही पनप पाती हैं 

उपसंहार : बढ़ते प्रदूषण और आवास की क्षति के कारण मधुमक्खियों की संख्या लगातार घट रही है। उन्हें लुप्त प्राय जीव की श्रेणी में रखा गया है और इसलिए उनके भी लुप्त होने का खतरा है। यह दुख की बात है कि मनुष्य मधुमक्खियों को वह सम्मान नहीं देते जिसकी वह हकदार हैं। क्योंकि मधुमक्खियां पौधों के अस्तित्व के लिए महत्वपूर्ण है जो मनुष्य के अस्तित्व के लिए भी जरूरी है। 
जायंट स्क्विड की जानकारी और रोचक तथ्य। Giant Squid in Hindi

जायंट स्क्विड की जानकारी और रोचक तथ्य। Giant Squid in Hindi

जायंट स्क्विड की जानकारी और रोचक तथ्य। Giant Squid in Hindi

Giant Squid in Hindi
जायंट स्क्विड गहरे समुद्र में रहने वाला एक स्क्विड है। यह स्क्विड की सबसे बड़ी प्रजाति है। जायंट स्क्विड धरती पर पाया जाने वाला सबसे बड़ा अकशेरुकी जीव है। ऐसा माना जाता है कि यह दुनिया के सभी महासागरों में निवास करता है। जायंट स्क्विड को रहस्यमय प्राणी माना जाता है क्योंकि यह बहुत गहरे और ठंडे पानी में निवास करता है जहां तक वैज्ञानिकों और गोताखोरों के लिए पहुंचना मुश्किल होता है। जायंट स्क्विड के बारे में ज्ञात सभी आंकड़े उनके शवों पर आधारित हैं, जो समय-समय पर दुनिया के समुद्र तटों पर दिखाई दे जाते हैं। 

जायंट स्क्विड के रोचक तथ्य:

  • विशालकाय स्क्वीड पृथ्वी पर सबसे बड़े जीवों में से एक है। सबसे बड़े जायंट स्क्विड की लंबाई 59 फीट और वजन लगभग एक टन था। यह एक मादा थी, जो सामान्य रूप से पुरुषों से बड़ी होती है। नर का औसत आकार लगभग 33 फीट और वजन 440 पाउंड होता है।
  • विशाल स्क्विड एक स्कूल बस जितनी लंबी हो सकती है।
  • विशालकाय स्क्वीड में बड़े सिर, आठ हाथ और दो तंतु होते हैं, जो शिकार को पकड़ने के लिए उपयोग किए जाते हैं।
  • जायंट स्क्विड के मजबूत जबड़े होते हैं, जिनका आकार तोते की चोच के समान होता है। 
  • जायंट स्क्विड का मुख्य आहार अन्य स्क्विड मछली और चिंराट(shrimps) होते हैं। कई वैज्ञानिकों का मानना है कि जायंट स्क्विड छोटे व्हेल का भी शिकार करते हैं। इनके तंतुओं में सैंक्शन कप होते हैं। जिसकी सहायता से यह अपने शिकार को पकड़ लेते हैं। एक बार जब वह शिकार को पकड़ लेते हैं तो तंतुओं की सहायता से वह शिकार को भुजाओं तक लाते हैं। और भुजाओं की सहायता से शिकार को अपने मुंह तक पहुंचाते हैं। यद्यपि जायंट स्क्विड की भुजाएं 10 फीट तक लंबी हो सकती हैं परंतु वह इनका इस्तेमाल शिकार के लिए नहीं करते। 
  • यद्यपि जायंट स्क्विड विशाल समुद्री राक्षसों की तरह दिखते हैं जो आक्रामकता से अपने शिकार को मारता है। परंतु वास्तव में वह घात लगाने वाले शिकारी होते हैं, जो अपने शिकार का पास आने का इंतजार करते हैं। जायंट स्क्विड सक्रिय रूप से भोजन की तलाश नहीं करते क्योंकि उन्हें अपनी ऊर्जा को संरक्षित करने की आवश्यकता होती है। 
  • क्योंकि विशाल स्क्विड 3000 से 6000 फीट की गहराई पर रहते हैं इसलिए उनकी विशाल आंखें होती हैं। जो उन्हें हल के परिवेश में भी वस्तुओं का पता लगाने में सक्षम बनाती हैं। जायंट स्क्विड की आंख का व्यास 10 इंच होता है 
  • विशाल स्क्विड के समूह को स्कूल कहा जाता है।
  • पुरुष के प्रजनन अंग की लंबाई सिर को छोड़कर, उसके शरीर की लंबाई के बराबर होती है।
  • एक विशाल स्क्वीड की आयु को "ग्रोथ रिंग" द्वारा निर्धारित किया जा सकता है, जो कि उसके छल्ले की गिनती करके किसी पेड़ की आयु निर्धारित करने के समान है।