Friday, 23 September 2022

आँखें चार करना मुहावरे का अर्थ और वाक्य प्रयोग

आँखें चार करना मुहावरे का अर्थ और वाक्य प्रयोग

आँखें चार करना मुहावरे का अर्थ- नजरों से नजरें मिलाना, सामना करना, प्रेम होना; एक दूसरे को देखना; आमना-सामना करना। 

Aankhen Char Hona Muhavare ka Arth- Nazron se nazare milana; Saamna karna, Prem hona; Ek doosre ko dekhna, Aamna-samna karna.

आँखें चार करना मुहावरे का वाक्य प्रयोग

वाक्य प्रयोग: मोहन और शीला को आँखें चार करते हुए अध्यापक ने देख लिया।

वाक्य प्रयोग: वह हिंदुस्तान की असलियत से आँखें चार नहीं कर सकता।

वाक्य प्रयोग: जब तक हमारे नेता वास्तविकता से आँखें चार नहीं करेंगे, तब तक देश के बदलने की उम्मीद करना बेईमानी है। 

वाक्य प्रयोग: सोहन सड़क के किनारे सिगरेट पी रहा था कि तभी उसकी पिताजी से आँखें चार हो गयीं। 

वाक्य प्रयोग: लड़के तो लड़के, आजकल आँखें चार करने में लड़कियाँ कुछ पीछे नहीं हैं। 

वाक्य प्रयोग: नरेश नज़र बचाकर ऑफिस जा रहा था कि नुक्कड़ पर सुरेश बाबू से उसकी आँखें चार हो गयीं। 

वाक्य प्रयोग: रिंकू प्रिया से छिप-छिपकर मिला करता था कि कहीं कोई उन्हें आँखें चार करते ना देख ले।

वाक्य प्रयोग: एक बार आँखों चार होने पर कोई भी सहज में आँखें फेर नहीं सकता था।

यहाँ हमने आँखें चार करना / होना जैसे प्रसिद्ध मुहावरे का अर्थ और वाक्य प्रयोग समझाया है। आँखें चार करना मुहावरे का अर्थ होता है- नजरों से नजरें मिलाना, सामना करना, प्रेम होना; एक दूसरे को देखना; आमना-सामना करना। जब हम किसी व्यक्ति से मिलते हैं और हमारी आँखे एक दूसरे को देखती है तो इस कहावत का प्रयोग किया जाता है। कभी-कभी ऑंखें चार होने से प्रेम होने का अर्थ भी लगाया जाता है। 


SHARE THIS

Author:

I am writing to express my concern over the Hindi Language. I have iven my views and thoughts about Hindi Language. Hindivyakran.com contains a large number of hindi litracy articles.

0 comments: