मेरे प्रिय शिक्षक पर निबंध - Mere Priya Shikshak Par Nibandh

Admin
0

मेरे प्रिय शिक्षक पर निबंध - Mere Priya Shikshak Par Nibandh

    मेरे प्रिय शिक्षक पर निबंध हिंदी में

    एक शिक्षक राष्ट्र का निर्माता होता है और हमें हमारे भविष्य का मार्ग दिखाता है। अध्यापन एक नेक पेशा है। शिक्षक हमें शिक्षित करते हैं और जिम्मेदार नागरिक बनने में हमारी मदद करते हैं। मैं कक्षा 1 का छात्र हूं और स्कूल में मेरी प्रिय शिक्षिका मधु मैम हैं। उनका पूरा नाम मधु शुक्ला है। वह हमारी क्लास टीचर है और हमें अंग्रेजी पढ़ाती है।

    मेरे प्रिय शिक्षक पर निबंध - Mere Priya Shikshak Par Nibandh

    वह बहुत प्यारी, खुशमिजाज और दयालु है। वह बहुत अच्छा पढ़ाती है। जब वह पढ़ाती है तो हम चुप रहते हैं। वह यह सुनिश्चित करती है कि हम विषय को अच्छी तरह समझें। अगर हमें कोई टॉपिक समझ में नहीं आता है तो वह उसे फिर से बहुत अच्छे से समझाती है। उनका पढ़ाने का तरीका और प्रस्तुत करने का तरीका बहुत अच्छा है। इसलिए हर चैप्टर को समझना आसान हो जाता है। मैं उसकी क्लास कभी मिस नहीं करता। वह हमारा मार्गदर्शन करती है और हमें अच्छी आदतें सिखाती है। वह सख्त है लेकिन प्यारी है। इसलिए हम उससे बहुत प्यार करते हैं और उसकी कक्षा में जाना पसंद करते हैं।

    कभी-कभी वह हमें कहानियां भी सुनाती हैं। किसी खास मौके पर वह हमें केक और चॉकलेट भी देती हैं। हम अपने जन्मदिन पर मैडम के लिए केक भी लाते हैं। पिछले साल हमने उनका जन्मदिन भी मनाया था। मैंने उसे अपनी एक ड्राइंग भेंट की। उसे बहुत अच्छा लगा। हम बहुत खुशकिस्मत हैं कि मधु मैम हमें पढ़ाती हैं। हमें अपने क्लास टीचर पर गर्व है। उनके बहुत से छात्र आज अपने क्षेत्रों में काफी सफल हैं। हम भी उसके सफल होने और भविष्य में उसका नाम रोशन करने की कामना करते हैं।

    मुझे लगता है कि एक अच्छा शिक्षक हमारे लिए भगवान का उपहार है। हम हमेशा भगवान का शुक्रिया अदा करते हैं कि हमारे पास मधु मैम जैसा अच्छा शिक्षिका है।


    मेरी प्रिय अध्यापिका पर निबंध हिंदी में

    शिक्षक वह व्यक्ति होता है जो छात्र के जीवन को आकार देने में बहुत महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। शिक्षक का अर्थ है हमें शिक्षित करने वाला। एक शिक्षक हमें कई तरह से शिक्षित करता है। वह छात्र के जीवन में गुरु, प्रशिक्षक और मार्गदर्शक जैसी कई अलग-अलग भूमिकाएँ निभाता है। वह जीवन के मूल्य के बारे में ज्ञान देता है। वह विषयों के बारे में जानकारी भी प्रदान करता है और हमें जीवन में सफलता प्राप्त करने के लिए शिक्षा लेने के लिए प्रेरित करता है।

    मैं कक्षा 1 की छात्रा हूँ और मेरी मेरी प्रिय अध्यापिका / शिक्षिका का नाम सुश्री रीना शाह है। वह हमें अंग्रेजी पढ़ाती है। वह एक मिलनसार और दयालु शिक्षिका है। वह अपने विषय को दिलचस्प तरीके से पढ़ाती है कि हम उनकी कक्षा को कभी मिस नहीं करते। उनकी कक्षा के समय, प्रत्येक छात्र चुपचाप अपनी बेंच पर बैठ जाता है।

    वह अध्याय को इतनी सरल भाषा में समझाती है कि सभी छात्र पाठ को बहुत आसानी से समझ सकें। यदि हम किसी विषय पर अटक जाते हैं या भ्रमित हो जाते हैं तो वह उचित उत्तर के साथ विषय को फिर से समझाकर हमारे संदेह को दूर करती है। उनकी शिक्षण शैली और प्रस्तुति शैली बहुत अच्छी है। बहुत सारे सवाल पूछने पर भी वह कभी नाराज नहीं होती।

    मेरी कक्षा का हर विद्यार्थी उनके पीरियड का बेसब्री से इंतजार करता है। वह हमें अच्छी बातें और अच्छे संस्कार भी सिखाती है। हालाँकि वह सख्त और अनुशासित है लेकिन वह बहुत प्यारी शिक्षिका है। क्रिसमस के समय या किसी भी त्योहार पर वह हमेशा हमारे लिए चॉकलेट लेकर आती हैं।

    प्रत्येक शिक्षक हमारे देश का एक महान व्यक्ति है। इसलिए हर साल 5 सितंबर को हम अपने शिक्षकों के प्रति आभार प्रकट करने के लिए "शिक्षक दिवस" मनाते हैं। मैं खुद को भाग्यशाली मानता हूं कि सुश्री रीना हमें पढ़ाती हैं। मेरे विचार से एक शिक्षक सबसे अच्छा उपहार है जो भगवान ने छात्रों को दिया है

    Related Essays : 

    Post a Comment

    0Comments
    Post a Comment (0)

    #buttons=(Accept !) #days=(20)

    Our website uses cookies to enhance your experience. Learn More
    Accept !