राजनीतिक संस्कृति के प्रमुख लक्षण बताइये।

Admin
0

राजनीतिक संस्कृति के प्रमुख लक्षण बताइये।

  • राजनीतिक संस्कृति के निर्धारक तत्व बताइए

राजनीतिक संस्कृति की प्रकृति एवं निर्धारक तत्व

राजनीतिक संस्कृति सामान्य संस्कृति का एक अंग है और एक व्यक्ति या सम्पूर्ण समाज के राजनीतिक व्यवस्था के प्रति जो आग्रह होते हैं, उन्हें ही सामूहिक रूप से राजनीतिक संस्कृति का नाम दिया जा सकता है। कुछ सीमा तक राजनीतिक संस्कृति एक समाज की ऐतिहासिक विरासत' होती है और कुछ सीमा तक राजनीतिक दलों, दबाव समूहों तथा अन्य अनेक राजनीतिक तथा गैर राजनीतिक तत्वों से प्रभावित होती है।

राजनीतिक संस्कृति के प्रमुख लक्षण

  1. राजनीतिक संस्कृति एक अमूर्त नैतिक धारणा
  2. राजनीतिक संस्कृति, अनेक तत्वों का सामूहिक और समन्वित रूप
  3. राजनीतिक संस्कृति में गतिशीलता

(1) राजनीतिक संस्कृति एक अमूर्त नैतिक धारणा - राजनीतिक संस्कृति का मूल आधार व्यक्ति और समाज के राजनीतिक मूल्य एवं विश्वास होते हैं। ये मूल्य और विश्वास सामान्य नैतिक धारणाओं के अंग होते हैं और इन्हें अन्य भौतिक तत्वों की भाँति कोई मूर्त स्वरूप प्राप्त नहीं होता है। इन्हें तो केवल समझा और अनुभव की किया जा सकता है।

(2) राजनीतिक संस्कृति, अनेक तत्वों का सामूहिक और समन्वित रूप - राजनीतिक संस्कृति, सामान्य संस्कति का एक अंग है और सामान्य संस्कति के ही समान अनेक तत्वों का सामूहिक एवं समन्वित रूप है। ऐतिहासिक विरासत, भौगोलिक परिस्थितियों, समाज की सामान्य संस्कृति, विचारधाराएँ, राजनीतिक व्यवस्था और इन सबके अतिरिक्त सामाजिक, आर्थिक संरचना आदि के द्वारा राजनीतिक संस्कृति के आधार के रूप में कार्य किया जाता है।

(3) राजनीतिक संस्कृति में गतिशीलता - राजनीतिक संस्कृति यदि एक ओर ऐतिहासिक विरासत तथा भौगोलिक परिस्थितियों से प्रभावित होती है तो दूसरी ओर सामाजिक-आर्थिक संरचना के द्वारा इसका नियमन किया जाता है। सामाजिक आर्थिक संरचना और राजनीतिक संस्कृति के अन्य कुछ तत्व स्थिर नहीं, वरन् निरन्तर विकासशील होते हैं। इस दृष्टि से सभी राजनीतिक संस्कृतियाँ आवश्यक रूप से गतिशील होती हैं, इसमें से कुछ मन्द परिवर्तनशीलता और कुछ तीव्र परिवर्तनशीलता की स्थिति को अपनाती हैं।

Post a Comment

0Comments
Post a Comment (0)

#buttons=(Accept !) #days=(20)

Our website uses cookies to enhance your experience. Learn More
Accept !