राजनीतिक समाजीकरण की विशेषताएं बताइये?

Admin
0

राजनीतिक समाजीकरण वास्तव में एक प्रकार की शिक्षा है जिसके माध्यम से व्यक्ति राजनीतिक वस्तुओं के प्रति ज्ञान प्राप्त करता है और अपने व्यवहार का निर्माण करता है। मैनहिन्न ने राजनीतिक समाजीकरण की चार विशेषताओं का वर्णन किया है जो इस प्रकार हैं

राजनीतिक समाजीकरण की विशेषताएं

  1. राजनातिक समाजीकरण आधारभूत रूप में एक अधिक विस्तृत या सामान्य सीखने व शिक्षण की प्रक्रिया का ही एक भाग है। इस प्रकार यह उस प्रक्रिया से केवल उन्हीं तत्वों को ग्रहण करता है जिनकी राजनीतिक वस्तुओं, मूल्यों या गतिविधियों से संगतता व उपयोगिता हो।
  2. राजनीतिक समाजीकरण के फल योगात्मक और अन्तक्रियात्मक (Aggregative and interactive) हैं। दूसरे शब्दों में, राजनीतिक समाजीकरण की प्रक्रिया सदा ही जारी रहती है।
  3. राजनीतिक समाजीकरण की प्रक्रिया अति विस्तारपूर्ण (Comprehensive) है, इसमें वे सभी बातें आ जाती हैं जिनमें राजनीति को सीखने से कुछ भी अथवा दूरी का भी सम्बन्ध हो।
  4. प्रत्येक व्यक्ति समाजीकरण के अनुभवों के न्यूनाधिक अनोखे मेल का प्रतिनिधित्व करता है। चूँकि पारिवारिक जीवन, सामूहिक संघों, शैक्षिक अनुभवों और जीवन शैलियों के प्रकार अनगिनत है और चूँकि राजनीतिक समाजीकरण में अन्य शक्तियाँ अन्तर्ग्रस्त रहती हैं, अतः ऐसे समाजीकरण के सम्भावित उत्पादन भी अनगिनत और विविध प्रकार के हैं। 

Post a Comment

0Comments
Post a Comment (0)

#buttons=(Accept !) #days=(20)

Our website uses cookies to enhance your experience. Learn More
Accept !