Saturday, 13 July 2019

जेसी ओवेन्स की जीवनी | Biography of Jesse Owens in Hindi

जेसी ओवेन्स की जीवनी | Biography of Jesse Owens in Hindi

जेसी ओवेन्स, जिन्हें मूल रूप से जेसी के रूप में जाना जाता था, 12 सितंबर, 1913 को अलबामा के ओकविले में हेनरी क्लीवलैंड ओवेन्स (एक शेयरक्रॉपर ) और मैरी एम्मा फिट्जगेराल्ड से पैदा हुए दस बच्चों (तीन लड़कियों और सात लड़कों) में सबसे छोटे थे। जेसी ओवेन्स और उसका परिवार नौकरी के बेहतर अवसरों के लिए क्लीवलैंड, ओहियो चले गए। जब जेसी के नए शिक्षक ने उनका नाम (उनकी रोल बुक में दर्ज करने के लिए) पूछा, तो उन्होंने कहा "जेसी( J.C )", लेकिन अपने मजबूत दक्षिणी उच्चारण के कारण, उन्होंने सोचा कि उन्होंने "जेसी ( Jesse )" कहा। नाम गलत लिख गया, और वह अपने जीवन के बाकी दिनों के लिए जेसी ओवेन्स ( Jesse Owens ) के रूप में जाने गए। जेसी ओवेन्स को आर्यन वर्चस्व के हिटलर के मिथक को कुचलने" का श्रेय दिया जाता है। 

जेसी ओवेन्स की जीवनी | Biography of Jesse Owens in Hindi
एक युवा के रूप में, ओवेन्स ने अपने खाली समय में अलग-अलग नौकरियां की: उन्होंने माल ढोने वाली गाड़ियां भरीं और एक जूते की मरम्मत की दुकान में काम किया, जबकि उनके पिता और बड़े भाई ने एक स्टील मिल में काम किया। इस अवधि के दौरान, ओवेन्स ने महसूस किया कि उन्हें दौड़ने का शौक था। अपने पूरे जीवन के दौरान, ओवेन्स ने अपने एथलेटिक करियर की सफलता के लिए फेयरमाउंट जूनियर हाई स्कूल में अपने जूनियर हाई स्कूल ट्रैक कोच चार्ल्स रिले के प्रोत्साहन  को जिम्मेदार ठहराया। चूंकि ओवेन्स ने स्कूल के बाद एक जूता मरम्मत की दुकान में काम किया, इसलिए रिले ने उन्हें स्कूल के बजाय अभ्यास करने की अनुमति दी।

वैवाहिक जीवन : ओवेन्स और मिन्नी रूथ सोलोमन (1915–2001) क्लीवलैंड के फेयरमोंट जूनियर हाई स्कूल में मिले थे जब वह 15 वर्ष के थे और वह 13. रूथ ने 1932 में अपनी पहली बेटी ग्लोरिया को जन्म दिया। उन्होंने 5 जुलाई, 1935 को शादी की। उनकी दो और बेटियां थीं -  मार्लीन 1937 में पैदा हुईं और बेवर्ली का जन्म 1940 में  हुआ। 1980 में उनकी मृत्यु तक वे रूथ सोलोमन से विवाहित रहे। 

ओवेन्स ने पहली बार राष्ट्रीय सुर्ख़ियों में तब आये जब वह क्लीवलैंड में ईस्ट टेक्निकल हाई स्कूल के छात्र थे। उन्होंने 100 गज (91 मीटर) के डैश में 9.4 सेकंड के विश्व रिकॉर्ड की बराबरी की और शिकागो में सन 1933 नेशनल हाई स्कूल चैम्पियनशिप में  24 फीट 9 इंच लंबी छलांग लगाई  

1936 बर्लिन ग्रीष्मकालीन ओलंपिक
11 वें ओलंपिक खेल, जो अगस्‍त, 1936 में जर्मनी के बर्लिन में आयोजित किये गये, ओवेंस ने अमेरिका के लिये चार स्‍वर्ण पदक जीते। उन्‍होंने 100 मीटर डैश 10.3 सेकंड में पूरी करके ओलंपिक रिकॉर्ड की बराबरी कर ली और रनिंग ब्रॉड जंप 26 फीट, 5 इंच का छलांग से जीतकर नया विश्‍व रिकार्ड बना लिया।वह उस वर्ष अमेरिका की 400 मीटर रिले टीम के सदस्‍य भी थे, जिसने ओलेपिक में 39.8 सेकंड का नया वर्ल्‍ड रिकार्ड बनाया। ओवेंस के उत्‍कृष्‍ट एथलेटिक प्रदर्शन के बावजूद हिटलर ने उनकी ओलंपिक विजयों को अनुमोदित करने से इंकार कर दिया, क्‍योंकि ओवेंस काले थे।

मृत्यु : ओवेंस युवा एथलेटिक प्रोग्रामों में सक्रिय भूमिका निभाते रहे और बाद में अपनी स्‍वयं की एक जनसंपर्क संस्‍था स्‍थापित कर ली। उनकी आत्‍मकथा "द जेस्‍से ओवेंस स्‍टोरी" 1970 में प्रकाशित हुई। 31 मार्च, 1980 को एरिजोना राज्य के टकसन शहर में उनकी मृत्‍यु हो गई।

SHARE THIS

Author:

I am writing to express my concern over the Hindi Language. I have iven my views and thoughts about Hindi Language. Hindivyakran.com contains a large number of hindi litracy articles.

0 comments: