Thursday, 16 June 2022

मालिक और माली के बीच संवाद लेखन - Malik aur Mali Ke Beech Samvad Lekhan

मालिक और माली के बीच संवाद लेखन : In This article, We are providing मालिक/मालकिन और माली के बीच संवाद लेखन and Malik aur Mali Ke Beech Samvad Lekhan for Students and teachers.

    मालिक और माली के बीच संवाद लेखन

    मालिक - और, क्या चल रहा हैं छोटू (माली का नाम) ?

    माली (छोटू) - बस पौधों को पानी दे रहा था मालिक |

    मालिक - अच्छा, सुनों मैंने कल ही एक नया पौधा लाया है; उसे दो-पहर तक लगा देना।

    माली - जी हुजूर! मेँ उसे अभी ही लगा दूंगा।

    मालिक - छोटू, धन्यवाद ! खैर तुम बहुत ही अच्छा काम कर रहें हों| ऐसे ही लगे रहो मेँ तुम्हारी पगार अगले महीने और बढ़ा दूंगा।

    माली - धन्यवाद मालिक! भगवान आपको खुश रखे।


    Malik aur Mali Ke Beech Samvad Lekhan

    मालिक : क्या बात है माली भाई तुमने मेरे कहने के बावजूद बगीचे में गुलाब का नया पौधा नहीं लगाया।

    माली : नहीं नहीं मालिक ऐसी कोई बात नहीं है मैंने गुलाब का पौधा लगाने के लिए बागीचा के बीचो-बीच मिट्टी खोद ली है।

    मालिक : तो फिर पौधा क्यों नहीं लगाया?

    माली : मालिक जो पौधा मैंने रामू से मंगवाया था उस पौधे में कीड़े लगे हुए थे इसलिए मैं कल स्वयं जाकर नया पौधा ले आऊंगा।

    मालिक : ठीक है और कोशिश करना कि हर प्रकार के गुलाब के पौधे तुम्हें मिल जाए।

    माली : जी मालिक जिस नर्सरी में मैं पहले काम करता था वहां हर प्रकार के पौधे मिलते हैं मैं वहीं से ले आऊंगा।

    मालिक : ठीक है।


    SHARE THIS

    Author:

    I am writing to express my concern over the Hindi Language. I have iven my views and thoughts about Hindi Language. Hindivyakran.com contains a large number of hindi litracy articles.

    0 Comments: