यंत्र-विन्यास तथा मशीन में अंतर (Difference between Mechanism and Machine in Hindi)

Admin
0

यंत्र विन्यास तथा मशीन में अंतर  (Difference between Mechanism and Machine in Hindi) 

यंत्र-विन्यास तथा मशीन में अंतर : In this article, we are providing Difference between Mechanism and Machine in Hindi, पढ़िए अंतर यंत्र विन्यास और मशीन में।

यंत्र विन्यास तथा मशीन में अंतर

क्र०सं०यंत्र-विन्यास (Mechanism)मशीन (Machine)
1. यह कई कड़ियों का संयोजन होता है जिसमें एक कड़ी की गति दूसरी कड़ियों को चलाती है।यह एक या अधिक यंत्र विन्यासों का समूह होता है जिसमें परस्पर सापेक्ष गति होती है।
2.इसका कार्य केवल कड़ियों में गति पारेषित करना है।इसका कार्य केवल, कार्य को प्राप्त करने के लिए ऊर्जा का प्रयोग करना है। 
3.यह किसी मशीन का क्रियाशील नमूना होता है। किन्तु  मशीन नहीं होता।किसी यंत्र-विन्यास को प्रयोगिक दृष्टि से सुधारने पर मशीन बनती है। प्रत्येक मशीन यंत्र-विन्यास से ही बनती है।a
4.जैसे-घड़ी, बोर्डन दाब गेज, हुक जोड़, पेन्टोग्राफ जैसे आदि।aजैसे-क्रेन, लिफ्ट, अन्तर्दहन इंजन, द्रविक प्रेस-खरादन आदि।

सम्बंधित लेख : 

  1. सरल गियरमाला, संयोजी गियरमाला और अधिचक्रीय गियरमाला में अंतर
  2. गति अधिनियंत्रक और गतिपाल पहिये में अंतर
  3. Difference between Jigs and Fixtures in Hindi
  4. Difference between Direct and Indirect Cost in Hindi
  5. गुणवत्ता नियंत्रण और गुणवत्ता आश्वासन के बीच अंतर
Tags

Post a Comment

0Comments
Post a Comment (0)

#buttons=(Accept !) #days=(20)

Our website uses cookies to enhance your experience. Learn More
Accept !