शेर पर निबंध Essay on Lion in Hindi

Admin
0
शेर पर निबंध Essay on Lion in Hindi
प्रस्तावना : शेर प्राचीन काल से मानव को आकर्षित करता आ रहा है। इसमें कोई संदेह नहीं है की शेर जंगल का  राजा है। यह एक मांसाहारी जानवर है जिससे जंगल के सभी जानवर डरते हैं। मानव शेर पर विजय प्राप्त कर गर्व हासिल करता है। शेर बिल्ली के परिवार से सम्बंधित सबसे ताकतवर और सबसे बड़ा जीव है। शेर की एक बहुत ही सुन्दर सनहरे रंग की अयाल होती है। शेर को शक्ति सुंदरता और अधिकार का प्रतीक माना जाता है। 

निवास स्थान : शेर घने जंगल में रहना पसंद नहीं करता है। शेर ठन्डे और रेतीले दोनों तरह के वातावरण में रह सकता है। अधिकतर शेर वृक्षों से भरे घास वाले मैदान और पर्वतों में रहना पसंद करते है। वे यूरोप, अफ्रीका और भारत में पाए जाते हैं। मानव द्वारा शेर की हत्याओं के कारण शेरो की संख्या प्रतिदिन काम होती जा रही है। ऐसा माना जा रहा है की भारत में अब मात्र 200 शेर ही रह गए हैं।

शेर की विशेषताएं : एक नर शेर का वजन १६० से 180 किग्रा तक हो सकता है। नर शेर लगभग 10 फ़ीट बड़े होते हैं और लगभग 3.5 फ़ीट लम्बे होते हैं। शेरनियां शेर की तुलना में कम वजन वाली और काम लम्बी होती हैं। शेरनियों का वजन 113 से 140 किग्रा।  शेर समूह में रहते हैं इस समूह को प्राइड कहते हैं। एक समूह में 10 से 20 शेर और अधिक से अधिक २० से 35 शेर।  मादा शेर को शेरनी और उसके बच्चे को कब कहते है। शेर लगभग २० से 25 वर्ष तक जीवित रहते हैं। शेर सामान्यतः एक दिन में 8 किमी चलते हैं। यदि उनके पास भोजन पर्याप्त मात्रा में है  तो वे दिन भर आराम ही करते रहते हैं। यदि वे भूखे हैं तो वे 24 किमी तक चल सकते हैं। शेर का बच्चा अपना माँ का ही दूध पीता है। शेर बड़े जीवों जैसे बारहसिंगा, जेब्रा, हिरन, भैंस आदि का शिकार करना पसंद करता है। शेर किसी भी 270 किग्रा के जानवर को अकेला खींच सकता है। उसमे 6 मनुष्यों के बराबर ताकत होती है।  

उपसंहार: शेर प्राचीन काल से ही शक्ति प्रदर्शन का प्रतीक रहा है। अशोक स्तम्भ में भी शेरों की आकृति देखी जा सकती है। परन्तु आज शेरो को उनकी खाल के कारण मारा जा रहा है। आज उनकी आबादी लुप्त होती जा रही है। इस सन्दर्भ में सरकार द्वारा विभिन्न कदम उठाये जा रहे हैं। शेरों के लिए वन्यजीव अभ्यारण्य खोले जा रहे हैं जिनमे गिर अभ्यारण्य शेरों  के लिए प्रसिद्ध है। 

Post a Comment

0Comments
Post a Comment (0)

#buttons=(Accept !) #days=(20)

Our website uses cookies to enhance your experience. Learn More
Accept !