Thursday, 15 February 2018

अर्ध सरकारी पत्र का उदाहरण। Ardh Sarkari Patra

अर्ध सरकारी पत्र का उदाहरण। Ardh Sarkari Patra

राजीव टंडन¸ IAS
कार्यालय¸जिलाधिकारी
इलाहाबाद¸ दिनांक 15 सितंबर 2017

विषय- नकली नोटों का चलन।

Ardh Sarkari Patra

प्रिय तिवारी जी¸
            आगामी माघ मेले के संबंध में हम प्रायः बात करते हैं। माघ मेले में जुटने वाली अपार भीड़ को दृष्टि में रखते हुए समाज विरोधी तत्व अपनी गतिविधियां तेज कर सकते हैं। विध्वंसक कार्यों के अतिरिक्त वे जनता को धोखा देने वाले कई अन्य कार्य भी कर सकते हैं। सूत्रों से पता चला है कि एक गिरोह 1000 और 500 रुपए के नकली नोट बड़ी मात्रा में लेकर नगर में घुस आया है। रिजर्व बैंक की ओर से दूरदर्शन पर विज्ञापन देकर सही नोट की पहचान का गुर जनता को समझाने की कोशिश की गई है पर नकली नोट असली से इस कदर मिलते-जुलते हैं कि अनपढ़ जनता प्रायः धोखे में आ जाती है इसलिए जरूरी है कि आप नकली नोटों का प्रदर्शन करके जनता को इस बारे में सावधान करें। इस संबंध में मैं आपसे फिर परामर्श करूंगा। 

       इस पत्र का उद्देश्य यह है कि आप अपने अधीनस्थ पुलिसकर्मियों को सावधान कर दें कि वह नकली नोटों का धंधा करने वाले समाज विरोधी तत्वों पर कड़ी नजर रखें। इस संबंध में हमारी कार्यविधि क्या होगी इसका निर्णय आप स्वयं अपने अधीनस्थ अधिकारियों के सहयोग से कर सकते हैं। 
आपका सद्भावी
राजीव टंडन
प्रमोद कुमार तिवारी¸ IPS                                                      
वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक¸ इलाहाबाद closed


SHARE THIS

Author:

Etiam at libero iaculis, mollis justo non, blandit augue. Vestibulum sit amet sodales est, a lacinia ex. Suspendisse vel enim sagittis, volutpat sem eget, condimentum sem.

0 comments: