Saturday, 4 May 2019

मेरे प्रिय खिलाड़ी लियोनेल मेसी पर निबंध। My Favourite Player Messi Essay in Hindi

मेरे प्रिय खिलाड़ी लियोनेल मेसी पर निबंध। My Favourite Player Messi Essay in Hindi

लियोनेल मेसी अर्जेंटीना के एक पेशेवर फुटबॉलर हैं। वह मेरे प्रिय फुटबॉल खिलाड़ी हैं। मुझे मेसी की वजह से फुटबॉल से प्यार हो गया। मेसी स्पेनिश क्लब बार्सिलोना और अर्जेंटीना राष्ट्रीय टीम दोनों की कप्तानी करते हैं। वह यकीनन दुनिया के सर्वश्रेष्ठ फुटबॉल खिलाड़ी है।

My Favourite Player Messi Essay in Hindi
लियोनेल मेसी मेरे आदर्श और पसंदीदा फुटबॉलर हैं। उन्हें क्यों पसंद करता हूं, इसके कई कारण है। सबसे पहला और महत्वपूर्ण कारण यह है कि उनके खेलने का तरीका बड़ा ही शानदार है। वह स्पेनिश फुटबॉल क्लब एफसी बार्सिलोना के एक प्रतिष्ठित खिलाड़ी हैं। या यूं कहा जा सकता है कि वह बार्सिलोना टीम के सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी हैं। वह इतने शानदार तरीके से खेलते हैं कि उनसे नजरें हटाना मुश्किल हो जाता है। प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष रूप से वह अपनी टीम की सफलता में बहुत योगदान देते हैं। मेसी अपनी गेंद पर नियंत्रण और ड्रिबलिंग के लिए जाने जाते हैं। वह अपने पैरों से गेंद को आगे ले जाते हुए तेजी से दौड़ सकते हैं और अपने इसी कौशल का उपयोग करते हुए वह सबसे चुस्त-दुरुस्त डिफेंडरों को भी मात दे देते हैं।

उनके साथी खिलाड़ी सहकर्मी पूर्व खिलाड़ी आदि सभी मानते हैं कि मेसी दुनिया के सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी हैं। एफसी बर्सिलोना और अर्जेंटीना नेशनल टीम के लिए अपने शानदार प्रदर्शन के माध्यम से उन्होंने दुनियाभर के प्रशंसकों का दिल जीता। उनके प्रशंसक उन्हें लिटिल मैजिशियन, द गॉड ऑफ फुटबॉल, द ग्रेटेस्ट ऑफ ऑल टाइम आदि नामों से भी पुकारते हैं। और किसी हद तक लियोनेल मेसी इन सभी नामों के हकदार भी हैं।

लियोनेल मेसी मैदान पर तेरी से गोल करने के लिए जाने जाते हैं। वह बड़ी ही दक्षता के साथ गोल करते हैं। प्रतिवर्ष वह सुनिश्चित करते हैं कि उनका प्रदर्शन आश्चर्यजनक हो। उन्होंने एक सत्र में अधिकतम 91 गोल करने का रिकॉर्ड बनाया है। उन्होंने समय-समय पर अपने खेलने की शैली को बदला है और वह अपने साथियों को भी खेलने का पर्याप्त मौका देते हैं। वह मैदान पर ऐसी परिस्थितियां बनाते हैं कि उनके साथी फुटबॉलर भी गोल कर सकें। 

मैं मेसी को इसलिए भी पसंद करता हूं कि वह एक फाइटर है। वह चुनौतियों को स्वीकार करते हैं और हार नहीं मानते। बचपन में मेसी को पता चला कि उनमें विकास हार्मोन की कमी है। यह समस्या इतनी गंभीर थी कि उनका करियर शुरू होने से पहले ही खत्म हो सकता था। लेकिन लियोनेल मेसी ने हार नहीं मानी। उन्होंने अपने खेल से एफसी बार्सिलोना के अधिकारियों को प्रभावित किया और उनका उपचार करवाने पर आजीवन उनके लिए खेलने का वादा किया।

लियोनेल मेसी के माता-पिता की आर्थिक स्थिति ठीक नहीं थी। विकास हार्मोन थेरेपी और उपचार उनके लिए कुछ ऐसा था जिसके बारे में वह केवल सपना ही देख सकते थे /लेकिन एफ सी बार्सिलोना के कारण लियो को एक नया जीवन मिला। वह अपने परिवार के साथ स्पेन चले गए, जहां उन्होंने इलाज कराया और एफ सी बार्सिलोना क्लब की युवा टीम के लिए खेलना शुरू किया। 

लियोनेल मेसी अविश्वसनीय रूप से प्रतिभाशाली हैं। लेकिन अन्य खिलाड़ी भी हैं जो उतने ही प्रतिभाशाली हैं लेकिन मैदान पर अपनी छाप छोड़ने में असफल हो जाते हैं। मेसी अपनी इस प्रतिभा का बखूबी इस्तेमाल करते हैं। किसी भी अन्य अच्छे खिलाड़ी की तरह वह अभ्यास को पर्याप्त महत्व देते हैं। उन्होंने अपने अथक परिश्रम के माध्यम से अपने खेलने की कला में सुधार किया है।

उन्होंने अपने क्लब - एफसी बार्सिलोना के लिए कई खिताब जीते थे। इसमें कई ला लिगा खिताब, किंग्स कप, चैंपियंस लीग और अन्य लीग कप शामिल हैं। व्यक्तिगत पुरस्कारों के बारे में बात करते हुए, लियो के पास दिखाने के लिए एक प्रभावशाली संग्रह है! उन्होंने पांच बैलोन डी'ओर्स, 4 यूरोपीय गोल्डन शूज़ और कई शीर्ष स्कोरर पुरस्कार जीते हैं। इसके अलावा, उनके नाम कई रिकॉर्ड भी हैं।

मुझे लियो का जीवन बहुत प्रेरणादायक लगता है। जब मैं निराश महसूस करता हूं, तो मैं प्रेरित होने के लिए उनके बारे में पढ़ता हूं जिस से मुझे प्रेरणा मिलती है। यदि मेसी एक ऐसी बीमारी से लड़कर जीत सकते हैं जो कि उनका करियर समाप्त कर सकती थी तो फिर मैं आसानी से उन बाधाओं को पार कर सकता हूं जिनका मैं सामना कर रहा हूं। 

जीवन में इतना कुछ हासिल करने के बावजूद भी लियोनेल मेसी बड़े ही विनम्र हैं। यह एक ऐसा गुण है जिसकी मैं सबसे अधिक प्रशंसा करता हूं और इसीलिए वह मेरे प्रिय खिलाड़ी हैं।
Related Articles :

SHARE THIS

Author:

I am writing to express my concern over the Hindi Language. I have iven my views and thoughts about Hindi Language. Hindivyakran.com contains a large number of hindi litracy articles.

0 comments: