Sunday, 14 April 2019

महारानी विक्टोरिया की जीवनी। क्वीन विक्टोरिया हिंदी बायोग्राफी

महारानी विक्टोरिया की जीवनी। क्वीन विक्टोरिया हिंदी बायोग्राफी

नाम
महारानी विक्‍टोरिया
जन्म
24 मई 1819
जन्म स्थान
लन्दन, इंग्लैंड
विशेष
सर्वाधिक लंबे समय तक साम्राज्ञी
मृत्यु
22 जनवरी 1901
महारानी विक्‍टोरिया ब्रिटेन पर सबसे लंबे समय तक शासन करने वाली साम्राज्ञी थीं। उन्‍होंने ब्रिटिश लोगों की राजनीतिक एकता के लिये सर्वाधिक योगदान दिया। महारानी विक्‍टोरिया को 1876 में ‘भारत को साम्राज्ञी’ की उपाधि भी प्रदान की गई, क्‍योंकि उस समय भारत ब्रिटिश शासन के अधीन था। उन्‍होंने 63 वर्षों तक शासन किया, जो किसी ब्रिटिश सम्राट द्वारा किया गया सबसे लंबा शासनकाल था।

महारानी विक्टोरिया की जीवनी।
महारानी विक्‍टोरिया का जन्‍म 24 मई 1819 में लंदन में ब्रिटेन के राजपरिवार में हुआ था। उनके पिता केंट के ड्यूक एडवर्ड की मृत्‍यु तभी हो गई, जब वह छोटी बच्‍ची थीं। उनकी मां ने उन्‍हें एक राजकुमारी की तरह बडा किया था। वह दिखने में काफी आकर्षक थीं। 1840 में उनका विवाह एक सुंदर और बुद्धिमान जर्मन राजकुमार अल्‍बर्ट से हुआ। अल्‍बर्ट और विक्‍टोरिया की नौ संताने थीं। विवाह होने के बाद भी वे अपने पति को राजकाज से दूर ही रखती थीं। परंतु धीरे-धीरे पति के प्रेम, विद्वत्ता और चातुर्य आदि गुणों ने उन पर अपना अधिकार जमा लिया और वे पतिपरायण बनकर उनके इच्छानुसार चलने लगीं। उनका घरेलू जीवन काफी खुशहाल था, किंतु 43 वर्ष की अवस्था में ही वे विधवा हो गईं। 1861 में कम उम्र में ही टायफायड से अल्‍बर्ट की मृत्‍यु हो गई। विक्‍टोरिया को सदमा लगा और वह गहरे शोक में डूब गईं। उन्‍होंने खुद को सार्वजनिक जीवन से दूर कर लिया। अपने दु:ख को भुलाने के लिये उन्‍होंने ने खुद को अपने देश और लोगों के लिये समर्पित कर दिया।

1837 में उनके चाचा विलियम चतुर्थ की मृत्‍यु  के बाद वह ब्रिटेन के सिंहासन पर बैठीं, तब उनकी उम्र केवल 18 साल थी। वह एक बुद्धिमान साम्राज्ञी थीं। उनके शासनकाल के दौरान इंग्‍लैंड एक प्रजातांत्रिक देश के रूप में विकसित हुआ। विक्‍टोरियन युग ब्रिटेन में विश्‍वास का युग था। वह ब्रिटेन की ऐसी शासक साबित हुईं, जिनका सबसे लंबा और महत्‍वपूर्ण था, जो प्रथम विश्‍वयुद्ध के साथ समाप्‍त हुआ। विक्‍टोरिया अत्‍यधिक उत्‍साह से भरी महिला थीं और उनके अथक प्रयासों ने ब्रिटेन को नये साम्राज्‍यवाद के प्रतीक के रूप में स्‍थापित कर दिया। ब्रिटेन एक ऐसा देश बन गया, जहां कानून व्‍यवस्‍था की स्थिति बेहतर थी और 19वीं सदी के अंत तक ब्रिटेन विश्‍व का सबसे शक्‍तिशाली राष्‍ट्र था।

SHARE THIS

Author:

I am writing to express my concern over the Hindi Language. I have iven my views and thoughts about Hindi Language. Hindivyakran.com contains a large number of hindi litracy articles.

0 comments: