Friday, 10 February 2017

अनेक शब्दों के लिए एक शब्द

वाक्यांश के लिए एक शब्द:

हिंदी भाषा में अनेक शब्दों के स्थान पर एक शब्द का प्रयोग कर सकते है। मूल वाक्यांश या वाक्य के शब्दों के अनुसार ही एक शब्द या पद का निर्माण होना चाहिए।


  1. अनुचित बात के लिए आग्रह- (दुराग्रह)
  2. अण्डे से जन्म लेने वाला- (अण्डज)
  3. जिसका जन्म नहीं होता - अजन्मा
  4. जो इन्द्रियों से परे हो - अगोचर
  5. जो विधान के विपरीत हो - अवैधानिक 
  6. जो संविधान के प्रतिकूल हो - असंवैधानिक
  7. जिसे भले -बुरे का ज्ञान न हो - अविवेकी
  8. आलोचना करने वाला  – आलोचक 
  9. पुस्तकों की समीक्षा करने वाला - समीक्षक 
  10. जिसे गिना न जा सके - अगणित
  11. जो कुछ भी नहीं जानता हो - अज्ञ
  12. जो बहुत थोड़ा जानता हो - अल्पज्ञ
  13. जिसकी आशा न की गई हो - अप्रत्याशित
  14. जिसके समान कोई दूसरा न हो - अद्वितीय
  15. जिसे वाणी व्यक्त न कर सके - अनिर्वचनीय
  16. जैसा पहले कभी न हुआ हो - अभूतपूर्व
  17. जो कभी ना मरे  – अमर 
  18. जो व्यर्थ का व्यय करता हो - अपव्ययी
  19. बहुत कम खर्च करने वाला - मितव्ययी
  20. सरकारी गजट में छपी सूचना - अधिसूचना
  21. जिसके पास कुछ भी न हो - अकिंचन
  22. दोपहर के बाद का समय - अपराह्न
  23. जिसका निवारण न हो सके - अनिवार्य
  24. देहरी पर रंगों से बनाई गई चित्रकारी - अल्पना
  25. आकाश को चूमने वाला- (गगनचुंबी)
  26. आकाश में उड़ने वाला- (नभचर)
  27. आदि से अन्त तक - आघन्त
  28. जिसका परिहार करना सम्भव न हो - अपरिहार्य
  29. जो ग्रहण करने योग्य न हो - अग्राह्य
  30. जिसे प्राप्त न किया जा सके - अप्राप्य
  31. जिसके हाथ में चक्र हो - चक्रपाणि
  32. भगवान में विश्वास न  रखने वाला- नास्तिक
  33. आशा से अधिक - आशातीत
  34. ऋषि की कही गई बात - आर्ष
  35. पैर से मस्तक तक - आपादमस्तक
  36. अत्यंत लगन एवं परिश्रम वाला - अध्यवसायी
  37. आतंक फैलाने वाला - आंतकवादी
  38. आकाश या गगन चुमनेवाला- (आकाशचुम्बी, गगनचुम्बी)
  39. आलोचना करनेवाला- (आलोचक)
  40. देश के बाहर से कोई वस्तु मंगाना - आयात
  41. जो तुरंत कविता बना सके - आशुकवि 35.नीले रंग का फूल - इन्दीवर
  42. जिसके मस्तक पर चन्द्रमा हो - चन्द्रमौलि
  43. जो दूसरों के दोष खोजे - छिद्रान्वेषी
  44. जिसका उपचार सम्भव न हो - असाध्य
  45. भगवान में विश्वास रखने वाला - आस्तिक
  46. जिसके मस्तक पर चन्द्रमा हो - चन्द्रमौलि
  47. जो दूसरों के दोष खोजे - छिद्रान्वेषी
  48. जिसका उपचार सम्भव न हो - असाध्य
  49. भगवान में विश्वास रखने वाला - आस्तिक
  50. जनता में सुनी-सुनाई बातें  – किंवदंती
  51. उत्तर -पूर्व का कोण - ईशान
  52. जानने की इच्छा - जिज्ञासा
  53. जानने को इच्छुक - जिज्ञासु
  54. जीवित रहने की इच्छा- जिजीविषा
  55. इन्द्रियों को जीतने वाला - जितेन्द्रिय
  56. जीतने की इच्छा वाला - जिगीषु
  57. मोक्ष का इच्छुक - मुमुक्षु
  58. मृत्यु का इच्छुक - मुमूर्षु
  59. गोद लिया हुआ पुत्र - दत्तक
  60. बिना पलक झपकाए हुए - निर्निमेष
  61. जिसमें कोई विवाद ही न हो - निर्विवाद
  62. जो निन्दा के योग्य हो - निन्दनीय
  63. मांस रहित भोजन - निरामिष
  64. जहाँ सिक्के ढाले जाते हैं - टकसाल
  65. जो त्यागने योग्य हो - त्याज्य
  66. जिसे बहुत आवश्यक हो   – अनिवार्य 
  67. जिसे पार करना कठिन हो - दुस्तर
  68. जंगल की आग - दावाग्नि
  69. रात्रि में विचरण करने वाला - निशाचर
  70. किसी विषय का पूर्ण ज्ञाता - पारंगत
  71. पृथ्वी से सम्बन्धित - पार्थिव
  72. रात्रि का प्रथम प्रहर - प्रदोष
  73. जिसे तुरंत उचित उत्तर सूझ जाए - प्रत्युत्पन्नमति
  74. युद्ध की इच्छा रखने वाला - युयुत्सु
  75. देवी का उपासक - शाक्त
  76. समान रूप से ठंडा और गर्म - समशीतोष्ण
  77. जो सदा से चला आ रहा हो - सनातन
  78. समान दृष्टि से देखने वाला - समदर्शी
  79. जो क्षण भर में नष्ट हो जाए - क्षणभंगुर
  80. फूलों का गुच्छा - स्तवक 73.संगीत जानने वाला - संगीतज्ञ
  81. जिसने मुकदमा दायर किया है - वादी
  82. जो विधि के अनुकूल है - वैध
  83. जो बहुत बोलता हो - वाचाल
  84. शरण पाने का इच्छुक - शरणार्थी
  85. सौ वर्ष का समय - शताब्दी
  86. शिव का उपासक - शैव
  87. जिसके विरुद्ध मुकदमा दायर किया है- प्रतिवादी
  88. मधुर बोलने वाला - मधुरभाषी
  89. धरती और आकाश के बीच का स्थान - अन्तरिक्ष
  90. हाथी के महावत के हाथ का लोहे का हुक - अंकुश
  91. जिसका पति परदेश से वापस आ गया हो - आगत पतिका
  92. जिसका पति परदेश जाने वाला हो - प्रवत्स्यत्पतिका
  93. जिसका मन दूसरी ओर हो - अन्यमनस्क
  94. जो बुलाया न गया हो - अनाहूत
  95. सीमा का अनुचित उल्लंघन - अतिक्रमण
  96. जिस नायिका का पति परदेश चला गया हो- प्रोषित पतिका
  97. संध्या और रात्रि के बीचकी वेला - गोधुलि
  98. माया करने वाला - मायावी
  99. किसी टूटी - फूटी इमारत का अंश - भग्नावशेष
  100. दोपहर से पहले का समय - पूर्वाह्न
  101. कनक जैसी आभा वाला - कनकाय
  102. हृदय को विदीर्ण कर देने वाला - हृदय विदारक
  103. हाथ से कार्य करने का कौशल - हस्तलाघव
  104. अपने आप उत्पन्न होने वाला - स्त्रैण
  105. जो लौटकर आया है - प्रत्यागत
  106. जो कार्य कठिनता से हो सके - दुष्कर
  107. यज्ञ में आहुति देने वाला - हौदा
  108. जिसे नापना सम्भव न हो - असाध्य
  109. जिसने किसी दूसरे का स्थान अस्थाईरूप से ग्रहण किया हो - स्थानापन
  110. जो देखा न जा सके - अलक्ष्य
  111. बाएँ हाथ से तीर चला सकने वाला - सव्यसाची
  112. वह स्त्री जिसे सूर्य ने भी न देखा हो - असुर्यम्पश्या



SHARE THIS

Author:

I am writing to express my concern over the Hindi Language. I have iven my views and thoughts about Hindi Language. Hindivyakran.com contains a large number of hindi litracy articles.

0 comments: