Monday, 15 August 2022

Few Lines on Janmashtami in Hindi / जन्माष्टमी पर 10 लाइन का निबंध

Few Lines on Janmashtami in Hindi : इस निबंध में हम जन्माष्टमी पर 5, 10, 15 और 20 लाइन का निबंध Class 1, 2, 3 और 4 के लिए लिख रहे हैं जिसको पढ़कर आप 10 Lines on Janmashtami in Hindi आसानी से लिख पाएंगे। जन्माष्टमी भगवान कृष्ण को समर्पित हिन्दुओं का प्रमुख त्यौहार है। 

  1. जन्माष्टमी पर 5 लाइन का निबंध
  2. जन्माष्टमी पर 10 लाइन का निबंध
  3. जन्माष्टमी पर 15 लाइन का निबंध
  4. जन्माष्टमी पर 20 लाइन का निबंध
Few Lines on Janmashtami in Hindi / जन्माष्टमी पर 10 लाइन का निबंध

जन्माष्टमी पर 5 लाइन का निबंध (5 Lines on Janmashtami in Hindi)

  • जन्माष्टमी भगवान कृष्ण को समर्पित हिन्दुओं का प्रमुख त्यौहार है। 
  • इस बार जन्माष्टमी का पर्व 18 अगस्त 2022 को मनाया जा रहा है।
  • कृष्ण जन्माष्टमी को जन्माष्टमी या गोकुलाष्टमी भी कहा जाता है। 
  • जन्माष्टमी का पर्व कृष्ण पक्ष के आठवें दिन को भाद्रपद में मनाया जाता है । 
  • जन्माष्टमी के दिन भगवान श्रीकृष्ण का जन्मोत्सव मनाया जाता है। 
  • जन्माष्टमी के अवसर भगवान श्रीकृष्ण का श्रृंगार करके उन्हें झूला झुलाया जाता है।

जन्माष्टमी पर 10 लाइन का निबंध (10 Lines on Janmashtami in Hindi)

  • जन्माष्टमी के दिन भगवान श्रीकृष्ण का जन्मोत्सव मनाया जाता है। 
  • इस बार जन्माष्टमी का पर्व 18 अगस्त 2022 को मनाया जा रहा है।
  • कृष्ण जन्माष्टमी को जन्माष्टमी या गोकुलाष्टमी भी कहा जाता है। 
  • जन्माष्टमी का पर्व कृष्ण पक्ष के आठवें दिन को भाद्रपद में मनाया जाता है । 
  • जन्माष्टमी के दिन सभी भक्त मंदिरों में हरे कृष्ण का जयकारा लगाया जाता है। 
  • जन्माष्टमी के पर्व पर मथुरा नगरी का हर छोटा बड़ा मंदिर सजाया जाता है। 
  • जन्माष्टमी के अवसर भगवान श्रीकृष्ण का श्रृंगार करके उन्हें झूला झुलाया जाता है।
  • जन्माष्टमी के दिन हिन्दू लोग भगवान कृष्ण के भजन और गीता का पाठ करते हैं। 
  • जन्माष्टमी के दिन व्रत रखने से भगवान कृष्ण की विशेष कृपा प्राप्त होती है। 
  • जन्माष्टमी के दिन वृंदावन स्थित बांके बिहारी मंदिर विशेष आरती का आयोजन होता है। 

जन्माष्टमी पर 15 लाइन का निबंध (15 Lines on Janmashtami in Hindi)

  • जन्माष्टमी भगवान कृष्ण को समर्पित हिन्दुओं का प्रमुख त्यौहार है। 
  • इस बार जन्माष्टमी का पर्व 18 अगस्त 2022 को मनाया जा रहा है।
  • कृष्ण जन्माष्टमी को जन्माष्टमी या गोकुलाष्टमी भी कहा जाता है। 
  • जन्माष्टमी का पर्व कृष्ण पक्ष के आठवें दिन को भाद्रपद में मनाया जाता है । 
  • जन्माष्टमी के दिन भगवान श्रीकृष्ण का जन्मोत्सव मनाया जाता है। 
  • जन्माष्टमी के अवसर पर सभी स्कूल और सरकारी दफ्तर बंद रहते हैं। 
  • जन्माष्टमी के 4 से 5 दिन पूर्व ही मंदिर, बाजार आदि सजने शुरू हो जाते हैं। 
  • जन्माष्टमी के अवसर भगवान श्रीकृष्ण का श्रृंगार करके उन्हें झूला झुलाया जाता है।
  • जन्माष्टमी के दिन लोग अपने घरों में भगवान कृष्ण की पूजा करते हैं। 
  • जन्माष्टमी के दिन लोग सुबह नहा धोकर नए वस्त्र पहन कर मंदिर जाते है।
  • जन्माष्टमी के दिन व्रत रखने से भगवान कृष्ण की विशेष कृपा प्राप्त होती है। 
  • जन्माष्टमी के दिन भगवन कृष्ण की बाल लीलाओं का मंचन किया जाता है। 
  • जन्माष्टमी के अवसर पर भगवन कृष्ण की भव्य झांकी निकाली जाती है। 
  • जन्माष्टमी के दिन हिन्दू लोग भगवान कृष्ण के भजन और गीता का पाठ करते हैं। 
  • जन्माष्टमी के दिन सभी भक्त मंदिरों में हरे कृष्ण का जयकारा लगाया जाता है। 

जन्माष्टमी पर 20 लाइन का निबंध (20 Lines on Janmashtami in Hindi)

  • जन्माष्टमी भगवान कृष्ण को समर्पित हिन्दुओं का प्रमुख त्यौहार है। 
  • इस बार जन्माष्टमी का पर्व 18 अगस्त 2022 को मनाया जा रहा है।
  • कृष्ण जन्माष्टमी को जन्माष्टमी या गोकुलाष्टमी भी कहा जाता है। 
  • जन्माष्टमी का पर्व कृष्ण पक्ष के आठवें दिन को भाद्रपद में मनाया जाता है । 
  • जन्माष्टमी के दिन भगवान श्रीकृष्ण का जन्मोत्सव मनाया जाता है। 
  • जन्माष्टमी के दिन लोग अपने घरों में भगवान कृष्ण की पूजा करते हैं। 
  • जन्माष्टमी के दिन भगवन कृष्ण की बाल लीलाओं का मंचन किया जाता है। 
  • जन्माष्टमी के अवसर पर भगवन कृष्ण की भव्य झांकी निकाली जाती है। 
  • जन्माष्टमी के दिन लोग सुबह नहा धोकर नए वस्त्र पहन कर मंदिर जाते है।
  • हिंदू लोग जन्माष्टमी को भगवान कृष्ण या विष्णु मंदिरों में जाकर मनाते हैं।  
  • जन्माष्टमी के अवसर भगवान श्रीकृष्ण का श्रृंगार करके उन्हें झूला झुलाया जाता है।
  • जन्माष्टमी के दिन हिन्दू लोग भगवान कृष्ण के भजन और गीता का पाठ करते हैं। 
  • जन्माष्टमी के दिन व्रत रखने से भगवान कृष्ण की विशेष कृपा प्राप्त होती है। 
  • जन्माष्टमी के दिन सभी भक्त मंदिरों में हरे कृष्ण का जयकारा लगाया जाता है। 
  • जन्माष्टमी के पर्व पर मथुरा नगरी का हर छोटा बड़ा मंदिर सजाया जाता है। 
  • जन्माष्टमी के दिन इस्कान मंदिर में भारतीयों के साथ विदेशी भक्त भी कृष्णमय नजर आते हैं।
  • जन्माष्टमी के पर्व पर श्रीकृष्ण के विग्रह को पंचामृत से स्नान कराया जाता है। 
  • जन्माष्टमी के अवसर पर सभी स्कूल और सरकारी दफ्तर बंद रहते हैं। 
  • जन्माष्टमी के दिन वृंदावन स्थित बांके बिहारी मंदिर विशेष आरती का आयोजन होता है। 
  • जन्माष्टमी के अगले दिन विभिन्न शहरों में दही हांडी प्रतियोगिता का आयोजन किया जाता है। 
  • उत्तरी राज्यों में, जन्माष्टमी को रासलीला परंपरा के साथ मनाया जाता है। 
Related Article : 

SHARE THIS

Author:

I am writing to express my concern over the Hindi Language. I have iven my views and thoughts about Hindi Language. Hindivyakran.com contains a large number of hindi litracy articles.

0 comments: