Vimudrikaran ya Notebandi par sampadak ko Patra नोटबंदी या विमुद्रीकरण पर समाचार पत्र के सम्पादक को पत्र

Admin
1

नोटबंदी या विमुद्रीकरण के संबंध में किसी समाचार पत्र के सम्पादक को पत्र : In this article we are providing article on Vimudrikaran ya Notebandi par sampadak ko Patra. 

नोटबंदी या विमुद्रीकरण पर समाचार पत्र के सम्पादक को पत्र

14/343, केशव नगर,

कानपुर

दिनांकः 11 जनवरी, 2020

सेवा में

संपादक महोदय 

दैनिक जागरण 

कानपुर

विषय:- नोटबंदी के कारण पनपी समस्या को उजागर करने हेतु।

महोदय,

मैं केशव नगर, कानपुर का स्थायी निवासी हूँ। जब से आदरणीय प्रधानमंत्री जी ने नोटबंदी की घोषणा की है, तब से यहाँ का माहौल अव्यवस्थित-सा हो गया है। इस शहर में स्थित लगभग सभी बैंकों में मुद्रा का वितरण ठीक प्रकार से नहीं हो पा रहा है। बैंकों में मुद्रा की आपूर्ति कम है तथा लेनदारों की संख्या अधिक है। जिस कारण जनता को अनेक परेशानियों का सामना करना पड़ा रहा है। बैंकों में से मुद्रा लेने के लिए लोग बैंक खुलने से लगभग 2 घंटे पहले ही बैंक के सामने लाइन लगाकर खड़े हो जाते हैं। जब तक बैंक खुलता है, बैंक के सामने तिल रखने की भी जगह नहीं रहती । हर जगह शोर-गुल और धक्का-मुक्की का आलम बना रहता है। 

बैंकों में नई मुद्रा की आपूर्ति कम होने के पीछे कई बैंक अधिकारी भी जिम्मेदार हैं क्योंकि वो काले धन को सफेद करने में लिप्त रहते हैं। कई बैंक अधिकारी नोटों की कालाबाजारी में संलिप्त पाए गए हैं। अगर इसी प्रकार भ्रष्टाचार का आलम रहा तो शहर का जीवन अस्त-व्यस्त जाएगा। 

अतः आपसे विनम्र निवेदन है कि आप हमारी इस समस्या को आपके प्रतिष्ठित समाचार-पत्र के के माध्यम से प्रकाशित करें ताकि प्रशासन का ध्यान इस ओर आकर्षित हो और वो उचित कदम उठाकर पुनः व्यवस्थित माहौल स्थापित करे।

     धन्यवाद।

आपका भवदीय

राकेश कुमार

Tags

Post a Comment

1Comments
Post a Comment

#buttons=(Accept !) #days=(20)

Our website uses cookies to enhance your experience. Learn More
Accept !