Wednesday, 15 November 2017

रूपए मंगवाने हेतु पिताजी को पत्र। Letter to Father asking for money in Hindi

रूपए मंगवाने हेतु पिताजी को पत्र

rupay mangwane hetu pitaji ko patra

पूज्य पिताजी,
चरण स्पर्श ,
विषय : रूपए मंगवाने हेतु पिताजी को पत्र।

मैं यहां स्वस्थ व प्रसन्न हूँ। आशा है, वहां भी सभी कुशल-मंगल होंगे। मेरी पढ़ाई भी ठीक से चल रही है। मान्यवर पिताजी अगले महीने दीपावली की छुट्टियां होने जा रहीं हैं। इन छुट्टियों में स्कूल की तरफ से सभी बच्चों को शिमला ले जाने का कार्यक्रम बन रहा है। मैं भी इस यात्रा पर जाना चाहता हूँ। आपसे निवेदन है की मुझे इस यात्रा पर जाने की अनुमति प्रदान करें। यदि आपकी अनुमति हो तो मुझे मनीआर्डर द्वारा पांच सौ रूपए भिजवाने की कृपा करें।
माता जी को चरण स्पर्श और छोटी बहन को मेरी ओर से स्नेह दे।

दिनांक : 
आपका पुत्र 
पंकज 

SHARE THIS

Author:

I am writing to express my concern over the Hindi Language. I have iven my views and thoughts about Hindi Language. Hindivyakran.com contains a large number of hindi litracy articles.

1 comment: