कान पकड़ना मुहावरे का अर्थ और वाक्य प्रयोग

Admin
0

कान पकड़ना मुहावरे का अर्थ और वाक्य प्रयोग (Kaan Pakadna Muhavare ka Arth aur Vakya Prayog)

कान पकड़ना मुहावरे का अर्थ और वाक्य प्रयोग

कान पकड़ना मुहावरे का अर्थ - भूल स्वीकार करना, तौबा करना, अपराध स्वीकार करना, अपनी गलती स्वीकार करना, दोबारा गलती न करने की प्रतिज्ञा करना। 

Kaan Pakadna Muhavare ka Arth - Bhool Swikaar karna, Tauba Karna, Apradh Swikaar Karna, Apni Galti swikar karna, Dobara Galti na karne ki pratigya karna.

कान पकड़ना मुहावरे का वाक्य प्रयोग 

वाक्य प्रयोग: जेल से मुक्त होने के बाद राजू ने अपराध की दुनिया से कान पकड़ लिए। 

वाक्य प्रयोग: मैं कान पकड़ता हूँ आइंदा ऐसी भूल नहीं होगी। 

वाक्य प्रयोग: लिवर खराब होने के बाद शर्मा जी ने कान पकड़े कि आज के बाद शराब नहीं पिएंगे।

वाक्य प्रयोग: सोनू ने अपने परिवार के सामने अपने कान पकड़ लिए और अनजाने में हुयी किसी भूल के लिए सभी से माफी मांगी। 

वाक्य प्रयोग: सचिन तेंदुलकर की ताबड़तोड़ बैटिंग को देखकर चयनकर्ताओं ने अपने कान पकड़ लिए। 

यहाँ हमने "कान पकड़ना मुहावरे का अर्थ" और उसका वाक्य प्रयोग समझाया है। कान पकड़ना मुहावरे का अर्थ होता है भूल स्वीकार करना, तौबा करना, अपराध स्वीकार करना, अपनी गलती स्वीकार करना, दोबारा गलती न करने की प्रतिज्ञा करना। जब कोई व्यक्ति अपनी गलती मानते हुए दोबारा गलती न करने की प्रतिज्ञा लेता है तो उसे कान पकड़ना कहते हैं। इसलिए लिए हमें सभी कार्य सावधानीपूर्वक करने चाहिए। 

Tags

Post a Comment

0Comments
Post a Comment (0)

#buttons=(Accept !) #days=(20)

Our website uses cookies to enhance your experience. Learn More
Accept !