गंगा गए गंगादास जमुना गए जमुनादास मुहावरे का अर्थ और वाक्य प्रयोग

Admin
0

गंगा गए गंगादास जमुना गए जमुनादास मुहावरे का अर्थ और वाक्य प्रयोग

गंगा गए गंगादास जमुना गए जमुनादास मुहावरे का अर्थ- अवसरवादी होना;  ढुलमुल विचारों का व्यक्ति; अपना सिद्धान्त बदलने वाला; किसी बात पर स्थिर न रहना; मौका परस्त; जिसके पास जाना उसी की सी कहना; जैसा देश वैसा भेष; जो व्यक्ति मौका देखकर अपनी धारणा बदले।

गंगा गए गंगादास जमुना गए जमुनादास मुहावरे का वाक्य प्रयोग

वाक्य प्रयोग: आजकल के नेताओं का बस वही हाल है गंगा गए गंगादास जमुना गए जमुनादास क्योंकि आए दिन वे दल बदलते रहते हैं। 

वाक्य प्रयोग: अजी  रमेश की की बात पूछते हो, कभी वह मोहन का मित्र बन जाता है और कभी सोहन का।  उसका तो गंगा गए तो गंगादास जमुना गए तो जमुनादास वाला हाल है। 

वाक्य प्रयोग: जो इंसान चाँद रुपयों पर बिक जाए, उनका क्या भरोसा - गंगा गये गंगादास , जमुना गये जमुनादास।

वाक्य प्रयोग: पहले विशाल आपसे मीठी-मीठी बातें कर रहा था और अब आपके शत्रु से बतिया रहा है, ये तो वही हुआ कि गंगा गये गंगादास , जमुना गये जमुनादास ।

वाक्य प्रयोग: ये लोग 'गंगा गये गंगादास और जमुना गये जमुनादास' हैं। कल तक अंग्रेजी सरकार की प्रशंसा में आकाश-पाताल एक कर रहे थे और आज यहाँ बैठकर उन्हीं की बुराई कर रहे हैं क्योंकि काम जो निकालना है। 

वाक्य प्रयोग: इंजीनियरों की सभा में गये तो उनकी तारीफ , आइ.ए.एस. वालों से मिले तो उनकी वाह - वाह , गंगा गये तो गंगादास , जमुना गये तो जमुनादास।

वाक्य प्रयोग: आजकल समाजमें ऐसे विद्वानों की कमी नहीं जो गंगा गये तो गंगादास और जमुना गये तो जमुनादास बन जाते हैं। 

यहाँ हमने गंगा गए गंगादास जमुना गए जमुनादास लोकोक्ति का अर्थ समझाया है। गंगादास जमुना गए जमुनादास मुहावरे / लोकोक्ति का अर्थ होता है- अवसरवादी होना;  ढुलमुल विचारों का व्यक्ति; अपना सिद्धान्त बदलने वाला; किसी बात पर स्थिर न रहना; मौका परस्त; जिसके पास जाना उसी की सी कहना; जैसा देश वैसा भेष; जो व्यक्ति मौका देखकर अपनी धारणा बदले। इस मुहावरे का प्रयोग ऐसे व्यक्ति के लिए करते हैं जो अपना काम बनाने के लिए जैसे माहौल देखता है, वैसा बन जाता है। 

Tags

Post a Comment

0Comments
Post a Comment (0)

#buttons=(Accept !) #days=(20)

Our website uses cookies to enhance your experience. Learn More
Accept !