छठी का दूध याद आना मुहावरे का अर्थ और वाक्य प्रयोग

Admin
0

छठी का दूध याद आना मुहावरे का अर्थ और वाक्य प्रयोग

छठी का दूध याद आना मुहावरे का अर्थ – कष्टदायक परिस्थिति उत्पन्न होना; कठिन मेहनत पड़ना; बहुत कष्ट मिलना;  बहुत परेशान होना; अत्यधिक कष्ट झेलना; भारी संकट में पड़ना। 

Chati ka doodh yaad aana muhavare ka arth - Kashtdayak paristhiti utpann hona; Kathin mehnat padna; Bahut kasht milna; bahut pareshan hona; atyadhik kasht jhelna; Bhari sankat me padna.

छठी का दूध याद आना मुहावरे का वाक्य प्रयोग

वाक्य प्रयोग - बद्रीनाथ से केदारनाथ की यात्रा करने के लिए राम ने पैदल जाने का निर्णय तो कर लिया किन्तु यात्रा के दौरान उसे विकट संकटों का सामना करना पड़ा जिससे उसे छठी का दध याद आ गया।

वाक्य प्रयोग - गलवान घाटी में आए दिन चीन तथा भारतीय सैनिकों के बीच झड़प की खबरें आती रहती हैं। भारतीय सैनिकों ने तंग आगर चीनी सैनिकों पर आक्रामक प्रहार किया जिससे उन्हें छठी का दूध याद आ गया। 

वाक्य प्रयोग - उरी हमले की जबावी कार्यवाही के दौरान भारतीय सैनिकों ने जब पाकिस्तान समर्थित आतंकवादी संगठनों का सफाया करना प्रारम्भ किया तो उन्हें छठी का दूध याद आ गया।

वाक्य प्रयोग - दोबारा मुझसे जबान लड़ाई तो मैं तुझे इतना मारूँगा कि छठी का दूध याद आ जाएगा। 

वाक्य प्रयोग - मैंने भी उसे ऐसा सबक सिखाया, बच्चू को छठी का दूध याद आ गया और लगा मेरी चौखट पर माथा टेकने।

वाक्य प्रयोग - बिना पूरी तैयारी के लंबी यात्रा पर जाने के कारण विकास को छठी का दूध याद आ गया। 

यहाँ हमने छठी का दूध याद आना मुहावरे का अर्थ और वाक्य प्रयोग का उदहारण देकर समझाया है। छठी का दूध याद आना मुहावरे का अर्थ होता है – कष्टादायक परिस्थिति उत्पन्न होना; कठिन मेहनत पड़ना; बहुत कष्ट मिलना;  बहुत परेशान होना; अत्यधिक कष्ट झेलना; भारी संकट में पड़ना। जब कोई व्यक्ति किसी ऐसी विपदा, समस्या या परिस्थिति में फंसता है की उसे अपना पूरा जोर लगाना पड़ता है तो इस कहावत का प्रयोग करते हैं। 

Tags

Post a Comment

0Comments
Post a Comment (0)

#buttons=(Accept !) #days=(20)

Our website uses cookies to enhance your experience. Learn More
Accept !