Tuesday, 16 August 2022

Few Lines on Kailash Satyarthi in Hindi - कैलाश सत्यार्थी पर 5 और 10 लाइन का निबंध

Few Lines on Kailash Satyarthi in Hindi : इस निबंध में हम कैलाश सत्यार्थी पर 5 और 10 लाइन का निबंध Class 1, 2, 3 और 4 के लिए लिख रहे हैं जिसको पढ़कर आप 10 Lines on Kailash Satyarthi in Hindi आसानी से लिख पाएंगे। कैलाश सत्यार्थी भारत के एक प्रमुख सामाजिक कार्यकर्ता और सुधारक हैं। 

Few Lines on Kailash Satyarthi in Hindi - कैलाश सत्यार्थी पर 5 और 10 लाइन का निबंध

5 Lines on Kailash Satyarthi in Hindi

  • कैलाश सत्यार्थी भारत के एक प्रमुख सामाजिक कार्यकर्ता और सुधारक हैं।
  • कैलाश सत्यार्थी का जन्म भारत के मध्य प्रदेश के विदिशा में 11 जनवरी 1954 को हुआ। 
  • कैलाश सत्यार्थी के पिता का नाम रामप्रसाद शर्मा और माता का नाम चिरौंजी था। 
  • 26 वर्ष की उम्र में ही कैलाश सत्यार्थी ने करियर छोड़कर समाज सेवा शुरू कर दी। 
  • कैलाश सत्यार्थी के परिवार में उनकी पत्नी सुमेधा, पुत्र, पुत्रवधू तथा पुत्री हैं। 
  • कैलाश सत्यार्थी के द्वारा संचालित संगठन का नाम "बचपन बचाओ आन्दोलन" है। 

10 Lines on Kailash Satyarthi in Hindi

  • कैलाश सत्यार्थी भारत के एक प्रमुख सामाजिक कार्यकर्ता और सुधारक हैं।
  • कैलाश सत्यार्थी का जन्म भारत के मध्य प्रदेश के विदिशा में 11 जनवरी 1954 को हुआ। 
  • कैलाश सत्यार्थी के पिता का नाम रामप्रसाद शर्मा और माता का नाम चिरौंजी था। 
  • 26 वर्ष की उम्र में ही कैलाश सत्यार्थी ने करियर छोड़कर समाज सेवा शुरू कर दी। 
  • कैलाश सत्यार्थी के परिवार में उनकी पत्नी सुमेधा, पुत्र, पुत्रवधू तथा पुत्री हैं। 
  • कैलाश सत्यार्थी के द्वारा संचालित संगठन का नाम "बचपन बचाओ आन्दोलन" है। 
  • 1974 में कैलाश सत्यार्थी ने सम्राट अशोक प्रौद्योगिकी संस्थान से इंजीनियरिंग की।
  • 1998 में कैलाश सत्यार्थी ने बाल श्रम के खिलाफ अंतरराष्ट्रीय कानून की मांग की। 
  • कैलाश सत्यार्थी ने बाल तस्करी एवं मज़दूरी के ख़िलाफ़ कड़े कानून बनाने की वकालत की
  • वर्ष 2014 में कैलाश सत्यार्थी को मलाला यूसुफजई के साथ नोबेल शांति पुरस्‍कार दिया गया। 
  • कैलाश सत्यार्थी ने बाल श्रम के ख़िलाफ़ देशव्यापी अभियान चलाया। 
  • कैलाश सत्यार्थी ने अपनी प्रारंभिक शिक्षा गवर्नमेंट बॉयज हायर सेकण्ड्री स्कूल से की।
  • वर्तमान में कैलाश सत्यार्थी 'ग्लोबल मार्च अगेंस्ट चाइल्ड लेबर' के अध्यक्ष भी हैं।

SHARE THIS

Author:

I am writing to express my concern over the Hindi Language. I have iven my views and thoughts about Hindi Language. Hindivyakran.com contains a large number of hindi litracy articles.

0 comments: