राजनीतिक विचारधारा में हर्बर्ट मार्क्यूज़ के विचारों का उल्लेख करिए।

Admin
0

राजनीतिक विचारधारा में हर्बर्ट मार्क्यूज़ के विचारों का उल्लेख कीजिए।

हर्बर्ट मार्क्यूज़ ने अमेरिकी युवाओं को काफी प्रभावित किया है। उसकी मान्यता है कि व्यक्ति के अस्तित्व को समग्र के लिए समाप्त नहीं किया जाना चाहिए। उसने औद्योगिक समाज की व्यवस्था की विवेचना प्रस्तुत करते हुए कहा है कि इस प्रकार के समाज में व्यक्ति छः घण्टे कार्य करने के पश्चात् अठारह घण्टे स्वतन्त्र रहता है, किन्तु ऐसी व्यवस्था की जानी चाहिए जिससे व्यक्ति एक घण्टा कार्य करे और तेईस घण्टे स्वतन्त्र रहे। माकूजे के विचारों की विशेषताएँ निम्नवत् हैं

  1. आज के औद्योगिक समाज में नए प्रकार की दासता के आवरण को संगठित होकर उतारकर फेंक देना चाहिए।
  2. व्यक्ति को प्रचार के परिष्कृत साधनों को अपनाना चाहिए जिससे मजदूरों की जीर्ण-शीर्ण दशा को सुधारा जा सके।
  3. मनुष्य को नए ढंग के मानव का निर्माण करना चाहिए।
  4. चेतना के वर्तमान स्वरूप का प्रतिपादन करने के लिए नकारात्मक चिन्तन की अवधारणा आवश्यक है।
  5. इसके (माकूजे) अनुसार, नया समाज केवल अभिजन की तानाशाही के अन्तर्गत ही वास्तविक स्वतन्त्रता को प्राप्त करेगा।
  6. शोषण के स्रोतों को तार्किकता के आधार पर सत्य की कसौटी पर कसकर स्वीकार करना चाहिए।
  7. सभी हिंसात्मक तथा विस्फोटक प्रयत्नों को सदैव के लिए रोक देना चाहिए तथा मनुष्य को अपनी समस्त सम्भावनाओं को स्वतन्त्र रूप से प्रदर्शित करना चाहिए।
  8. समाज में विज्ञान तथा तकनीकी का अधिकाधिक उपयोग करना चाहिए जिससे मानव श्रम की आवश्यकता कम हो।
  9. क्रान्ति की और ध्यान देकर मनुष्य को उत्तम समाज का निर्माण करना चाहिए। वास्तव में माकूजे देश के तरुणों में एक कान्तिकारी मनोवृत्ति का सृजन करना चाहता था। आने वाली क्रान्ति के लिये वह नवीन नेतृत्व को तैयार करना चाहता था।
  10. माकूजे वर्तमान परमाण्विक आत्महत्या के विकल्प से बचने के लिए एक वांछनीय एवं प्राप्तव्य नए समाज की बात करता है। उसमें मनुष्य पर मनुष्य और संस्थाओं का प्रभुत्व नहीं होगा।

Post a Comment

0Comments
Post a Comment (0)

#buttons=(Accept !) #days=(20)

Our website uses cookies to enhance your experience. Learn More
Accept !