Thursday, 4 October 2018

DIWALI RHYMES IN HINDI

DIWALI RHYMES IN HINDI

DIWALI RHYMES IN HINDI

आई दीवाली आई दीवाली
बच्चों को हर्षाने वाली 
घर-घर में होती है सफाई 
माताएं बनाए मेवा-मिठाई 
बच्चों के मन बहाने वाली 
आई दीवाली आई दीवाली 
घर-घर में हैं दीप जलाते 
पट-पटा-पट जलें पटाखे 
झर - झर - झर - झर
छूटें फुलझड़ियाँ और अनार 
आई दीवाली आई दीवाली

कविता संख्या - 2
दिवाली आई, दिवाली आई,
खुशियो की बहार लायी।
धूम धमक धूम-धूम, चकरी,
बम, हवाई इनसे बचना भाई।
दिवाली आई, दिवाली आई,
खुशियो की बहार लायी।

पटाखे बाजे धूम-धूम, धूम-धूम।
आओ मिलकर नाचे गए हम और तुम।
घर घर दीप जलेंगे, आएगी मिठाई।
दिवाली आई, दिवाली आई,
खुशियो की बहार लायी।

कविता संख्या - 3
दीपों का त्योहार दीवाली।
खुशियों का त्योहार दीवाली॥
वनवास पूरा कर आये श्रीराम।
अयोध्या के मन भाये श्रीराम।।
घर-घर सजे , सजे हैं आँगन।
जलते पटाखे, फ़ुलझड़ियाँ बम।।
लक्ष्मी गणेश का पूजन करें लोग।
लड्डुओं का लगता है भोग॥
पहनें नये कपड़े, खिलाते है मिठाई ।

देखो देखो दीपावली आई॥

कविता संख्या - 4
दीप जलाओ दीप जलाओ
आज दिवाली रे।
खुशी-खुशी सब हँसते आओ
आज दिवाली रे।
मैं तो लूँगा खील-खिलौने
तुम भी लेना भाई
नाचो गाओ खुशी मनाओ
आज दिवाली आई।

आज पटाखे खूब चलाओ
आज दिवाली रे
दीप जलाओ दीप जलाओ
आज दिवाली रे।
नए-नए मैं कपड़े पहनूँ
खाऊँ खूब मिठाई
हाथ जोड़कर पूजा कर लूँ

आज दिवाली आई।

SHARE THIS

Author:

I am writing to express my concern over the Hindi Language. I have iven my views and thoughts about Hindi Language. Hindivyakran.com contains a large number of hindi litracy articles.

0 comments: