Wednesday, 15 November 2017

छात्रवृत्ति के लिए प्रधानाचार्य को पत्र। Scholarship Letter in Hindi

सेवा में,
श्री प्रधानाध्यापक महोदय,
राजकीय इंटर कॉलेज,
गोरखपुर 


विषय : छात्रवृत्ति के लिए प्रधानाचार्य को पत्र। 
महोदय,
           सेवा में सविनय निवेदन है कि मैं आपके विद्यालय में दशवीं कक्षा का विद्यार्थी हूँ। मेरे पिताजी सरकारी दफ्तर में चपरासी थे परन्तु अब वह सेवानिवृत्त हो गए हैं। हम पांच भाई-बहन हैं अतः घर का खर्च बड़ी ही कठिनाई से चल पा रहा है। इन परिस्थितियों के कारण मेरा पढ़ाई कर पाना असंभव हो गया है। अतः आपसे अनुरोध है कि मुझे छात्रवृत्ति प्रदान करने की कृपा करें, जिससे मैं अपनी पढ़ाई जारी रख सकूं। मैं नवम कक्षा प्रथम श्रेणी में उत्तीर्ण हुआ हूँ। इसके अतिरिक्त मैं अंतर्विद्यालीय शतरंज प्रतियोगिता में भी प्रथम आया हूँ। 
आशा करता हूँ की मुझे छात्रवृत्ति प्रदान कर दी जायेगी। 

आपका आज्ञाकारी शिष्य 
हिमांशु शर्मा
 दिनांक : 16-11-2017 


पत्र संख्या : 2 
सेवा में,
प्रधानाचार्य 
के. पी. एस. इंटर कॉलेज 
इलाहाबाद। 

विषय : प्रधानाचार्य को छात्रवृति के लिए आवेदन पत्र। 
Scholarship Letter in Hindi


माननीय महोदय ,

                   सविनय निवेदन है की मैं आपके विद्यालय का कक्षा नवम 'अ' का छात्र हूँ। मैं अपनी कक्षा में प्रतिवर्ष अच्छे अंकों से उत्तीर्ण होता रहा हूँ। मैं विद्यालय की क्रिकेट टीम का सदस्य भी हूँ। इसके अतिरिक्त मैं विद्यालय की प्रमुख गतिविधियों में हमेशा भाग लेता हूँ और विद्यालय का गौरव बढ़ाने का प्रयास करता हूँ। मैं अपनी कक्षा का मॉनिटर भी हूँ। अपने अनुशासित व्यवहार के कारण मैं सभी अध्यापक-अध्यापिकाएं का प्रिय हूँ। 

मेरे पिताजी पिछले माह एक सड़क दुर्घटना में मारे गए। मेरी माँ एक विद्यालय में चतुर्थ श्रेणी की कर्मचारी हैं। वह इस आर्थिक संकट के समय में पूरी गृहस्थी का बोझ नहीं उठा पा रही हैं। मेरा एक छोटा भाई और एक बहन भी है। मेरा आपसे निवेदन है की घर की आर्थिक स्थिति ठीक न होने के कारण मुझे छात्रवृत्ति देने की कृपा करें। 

अपनी पढ़ाई को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए मुझे छात्रवृत्ति की बहुत जरुरत है अन्यथा बिना पढ़ाई के मेरा भविष्य अंधकारमय हो जाएगा। मैं कुछ करके अपनी माँ का सहारा बनना चाहता हूँ। अतः आप मुझे छात्रवृत्ति प्रदान कर मुझे अच्छे भविष्य की ओर अग्रसर करें। मैं आपका सदा आभारी रहूँगा। 
धन्यवाद 
आपका आज्ञाकारी शिष्य 
सत्यम तिवारी 
कक्षा 9 'अ'



SHARE THIS

Author:

Etiam at libero iaculis, mollis justo non, blandit augue. Vestibulum sit amet sodales est, a lacinia ex. Suspendisse vel enim sagittis, volutpat sem eget, condimentum sem.

0 comments: